Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मौसम बेईमान किसान परेशान : कांग्रेस का सवाल- कब मिलेगा किसानों को मुआवजा ?

कांग्रेस सरकार पर किसानों के साथ नाइंसाफी करने का आरोप लगा रही है। बैमौसम बारिश से हुये नुकसान ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। पढ़िए पूरी खबर-

मौसम बेईमान किसान परेशान : कांग्रेस का सवाल- कब मिलेगा किसानों को मुआवजा ?
X

भोपाल। मध्यप्रदेश में दो दिन पहले हुयी बेमौसम बारिस ने किसानों की मुसीबतें बढ़ी दी है। किसानों की खड़ी फसलें खराब हो गयी है, इसके अलावा जिन फसलों की कटाई हो चुकी थी। वो खनिहाल में खराब हो रही है। सरकार ने खराब फसलों के सर्वे के निर्देश तो दिये है लेकिन जो फसलें खनिहालों में है, उनकी सुध नहीं ली है। कांग्रेस सरकार पर किसानों के साथ नाइंसाफी करने का आरोप लगा रही है। बैमौसम बारिश से हुये नुकसान ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है।

बेमौसम बारिश से मध्यप्रदेश के मुरैना, साहर, शिवपुरी, हरदा, सीहोर समेत करीब डेढ दर्जन जिलों में काफी नुकसान हुआ है। वहीं रीवा, सागर, शिवपुरी, रायसेन, विदिशा और मंडला में ओलावृष्टि से फसलें चौपट हो गयी है। फिलहाल सर्वे का काम शुरू नहीं हो पाया है, ऐसे में समय पर किसानों को सरकारी मदद मिल पाये। यह उम्मीद कम ही नजर आ रही है। वहीं डीजल के दाम लगातार बढ़ने से किसानों की कमर पहले से ही टूटी हुई है।

प्रदेश सरकार के परिवहन मंत्री और कृषि मंत्री ने अपने-अपने क्षेत्रों के जिलों का दौरा कर खराब फसलों की स्थिति का मौका मुआयना किया। कृषि मंत्री ने प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरो को खराब फसलों के सर्वे के निर्देश दिये हैं। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि सरकार ने उन फसलों के सर्वे के निर्देश दिये है, जो खेत में खड़ी थी लेकिन जो फसलें कटकर खनिहालों तक पहुंच गयी है। उन किसानों को सर्वे में शामिल नहीं किया गया है। कांग्रेस ने राज्य सरकार पर किसानों के हितों की अनदेखी करने का आरोप भी लगाया है।

वही सत्तापक्ष का कहना है कि सरकार किसानों के साथ है। संकट की इस घड़ी में सरकार किसानों को हरसभव मदद करने लिये तैयार हैं।

Next Story