Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एक साल पूरा होने पर भाजपा की लंच पार्टी, कांग्रेस ने मनाया लोकतंत्र सम्मान दिवस

कांग्रेस 20 मार्च को लोकतंत्र सम्मान दिवस के रूप में मना रही है तो बीजेपी कमलनाथ सरकार को सत्ता से बेदखल करने वाले दिन को 'खुशहाली दिवस' के रूप में मना रही है। पढ़िए पूरी खबर-

एक साल पूरा होने पर भाजपा की लंच पार्टी, कांग्रेस ने मनाया लोकतंत्र सम्मान दिवस
X

भोपाल। एक साल पहले आज ही के दिन कमलनाथ को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। 15 साल बाद राज्य की सत्ता में आई कांग्रेस पार्टी की सरकार महज 15 महीने में गिर गई थी। कांग्रेस 20 मार्च को लोकतंत्र सम्मान दिवस के रूप में मना रही है तो बीजेपी कमलनाथ सरकार को सत्ता से बेदखल करने वाले दिन को 'खुशहाली दिवस' के रूप में मना रही है। मौके पर सिंधिया शिवराज के सरकारी आवास पर लंच के लिये पहुंचे। कांग्रेस तंज कस रही है कि सिंधिया को नमक खिलाकर कर्ज उतारा जा रहा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सरकारी आवास पर आयोजित होने लंच पार्टी में ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने समर्थक मंत्रियों के साथ पहुंचे। इसके पहले सिंधिया और शिवराज ने स्मार्ट सिटी पार्क में पौधारोपण भी किया। लंच के दौरान सिंधिया और शिवराज के बीच में प्रदेश के सियासी माहौल को लेकर मंथन भी हुआ। इस लंच को लेकर कांग्रेस की तीखी प्रतिक्रिया सामने आयी है। कांग्रेस का कहना है कि गद्दारों को सीएम शिवराज नमक खिलाकर कर्ज उतार रहे हैं।

वहीं सत्तापक्ष का कहना है कि प्रदेश में जनहिषैती सरकार के एक साल पूरे हो गये है। सीएम शिवराज और सिंधिया मिलकर प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जा रहे है और इस प्रकार की बैठकों के जरिये मंथन का दौर चलता रहता है। एक साल पहले आज ही के दिन 15 साल के बाद सत्ता में आयी कमलनाथ सरकार 15 महीनों में ही गिर गयी थी। सरकार गिरानें में सिंधिया और उनके समर्थकों की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

मध्य प्रदेश के सभी कांग्रेस कार्यालयों पर लोकतंत्र सम्मान दिवस

वहीं मध्य प्रदेश के सभी कांग्रेस कार्यालयों पर लोकतंत्र सम्मान दिवस मनाया गया। कांग्रेस की सरकार गिरने और कमलनाथ के इस्तीफे को लेकर इस दिन को मनाया गया, जहां भोपाल के प्रदेश कांग्रेस कर्यालय पर प्रदेश के कई बड़े नेता शामिल हुए तो साथ ही कार्यकर्ताओं का जोरदार प्रदर्शन भी हुआ।

1 साल पहले कांग्रेस की सरकार गिरने और तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस्तीफे दिए जाने को लेकर राजधानी के प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में लोकतंत्र सम्मान दिवस मनाया गया, जहां कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झूमाझटकी हो गई। इसके बाद कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी भी पुलिस ने की। इससे पहले कांग्रेस कार्यलय में दिग्विजय सिंह आरिफ मसूद, सुरेश पचौरी और पीसी शर्मा समेत कई नेता मौजूद रहे, जहां दिग्विजय सिंह ने संघ और बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला, तो साथ ही 15 महीने की कांग्रेस सरकार के किये कामों की तारीफ की।

इसी दौरान धारा 144 के बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन भी कर दिया। कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए विधायकों के पोस्टर पर पैसों की माला पहनाया और फिर उस पोस्टर को जूतो से मारा। इस प्रदर्शन के बाद पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच झड़प भी हुई और कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार भी किया गया।

और पढ़ें
Next Story