Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केंद्र सरकार को जम्मू-कश्मीर में हालात सुधारने के लिए कुछ करना चाहिए: उमर अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव के बारे में पूछे जाने पर उमर ने कहा कि इस पर फैसला भारत के चुनाव आयोग को करना है, लेकिन उनकी पार्टी ने अभी तक चुनाव की तैयारी शुरू नहीं की है।

केंद्र सरकार को जम्मू-कश्मीर में हालात सुधारने के लिए कुछ करना चाहिए: उमर अब्दुल्ला
X

नेशनल कांफ्रेंस (National Conference- नेकां) के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने मंगलवार को जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के गांदरबल (Ganderbal) में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में लोग संकट में हैं।

क्योंकि, शायद ही कोई ऐसा दिन होता है जब जम्मू कश्मीर में कोई हिंसक घटना न हुई हो। स्थिति सबके सामने है। शायद ही कोई ऐसा दिन होगा जब कोई घटना न घटी हो। जनता संकट में है। हम चाहते हैं कि स्थिति में सुधार हो और इसके लिए केंद्र सरकार (Central Government) को कुछ करना होगा।

चुनाव कराने की जिम्मेदारी चुनाव आयोग की होती है

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव के बारे में पूछे जाने पर उमर ने कहा कि इस पर फैसला भारत के चुनाव आयोग को करना है, लेकिन उनकी पार्टी ने अभी तक चुनाव की तैयारी शुरू नहीं की है।

उन्होंने कहा, 'चुनाव कराने की जिम्मेदारी चुनाव आयोग की होती है। अगर चुनाव आयोग चुनाव कराने का फैसला करता है, तभी हम अपनी तैयारी शुरू करेंगे। अभी हम न तो चुनाव की बात कर रहे हैं और न ही चुनाव की तैयारी कर रहे हैं।

निजामुद्दीन लारवी नक्शबंदी की दरगाह का दौरा किया

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने वार्षिक उर्स के अवसर पर मध्य कश्मीर जिले के बाबा नगरी इलाके में बाबा निजामुद्दीन लारवी नक्शबंदी की दरगाह का दौरा किया।

और पढ़ें
Next Story