Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम का ऐलान: मंडी, रामपुर तथा बद्दी में बनाए जाएंगे तीन नए हेलिपोर्ट

हिमाचल प्रदेश में मंडी, रामपुर तथा बद्दी में तीन नए हेलिपोर्ट बनाए जाएंगे। ऐसे हेलिपोर्ट प्रत्येक जिला मुख्यालय में तैयार किए जाएंगे। यह ऐलान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया है। सीएम ने कहा कि प्रदेश के हरेक जिला मुख्यालय को नए हेलिपोर्ट की सुविधा से जोड़ा जाना जरूरी है।

सीएम का ऐलान: मंडी, रामपुर तथा बद्दी में बनाए जाएंगे तीन नए हेलिपोर्ट
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में मंडी, रामपुर तथा बद्दी में तीन नए हेलिपोर्ट बनाए जाएंगे। ऐसे हेलिपोर्ट प्रत्येक जिला मुख्यालय में तैयार किए जाएंगे। यह ऐलान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने किया है। सीएम ने कहा कि प्रदेश के हरेक जिला मुख्यालय को नए हेलिपोर्ट की सुविधा से जोड़ा जाना जरूरी है, ताकि वहां बाहर से आने वाले लोगों को सुविधा मिले और नए पर्यटक स्थल भी विकसित हो सकें। क्योंकि हिमाचल में कनेक्टिविटी के साथ टूरिज्म जुड़ा है, लिहाजा आने वाले समय में सरकार नए हेलिपोर्ट बनाने पर जोर देगी।

रविवार को मुख्यमंत्री ने शिमला के संजौली में बन रहे हेलिपोर्ट के कार्य की समीक्षा की और जाना कि यह कब तक पूरा हो जाएगा। अधिकारियों ने बताया कि सितंबर तक इसका काम पूरा कर दिया जाएगा। उन्होंने परियोजना स्थल का दौरा किया और पूरा जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को हेलिपोर्ट का कार्य तय समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। यह हेलिपोर्ट शिमला आने वाले पर्यटकों को सुविधा प्रदान करने के लिए बेहद सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि 14 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस हेलिपोर्ट के पूर्ण होने से उड़ान-2 के तहत जुब्बड़हट्टी के बजाय इस हेलिपोर्ट पर हेलिकॉप्टर की लैंडिंग की सुविधा प्रदान होगी। उन्होंने कहा कि यह हेलिपोर्ट वीआईपी लाउंज तथा जन उपयोगी क्षेत्र जैसी सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित होगा।

शिमला प्रदेश की राजधानी है, मगर यहां कई किलोमीटर दूर जाकर जुब्बड़हट्टी में एयरपोर्ट है, जो भी सही तरह से काम नहीं कर सका है। यहां उड़ानें नहीं हो पातीं, जिसे लेकर कई तरह के विवाद हैं। यहां की हवाई पट्टी छोटी है, जिसे बढ़ाने के लिए पीछे काम किया गया है। उड़ान-एक की शुरुआत यहीं से की गई थी, मगर नियमित रूप से उड़ानें यहां नहीं आईं। आने वाले दिनों में केंद्र सरकार ने उड़ान-दो के तहत भी यहां हवाई सेवा को बढ़ाना है। ऐसे में संजौली के नजदीक बनाए जा रहे हेलिपोर्ट को विकसित किया जा रहा है, जिससे एक बड़ी राहत शिमला के लिए मिलेगी।

Next Story