Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लास्ट एंड फाइनल सेटलमेंट स्कीम : एक्सटेंशन फीस में 12 पैसे ज्यादा भरने पर प्लाटधारक को 15 लाख का फटका

प्लाट अलाटी ने वर्ष 2016 तक की सात साल की एक्सटेंशन फीस राशि 32410 रुपये 88 पैसे भरते समय 32411 रुपये (मात्र 12 पैसे) ज्यादा जमा करवा दिए। जिस कारण सॉफ्टवेयर ने 12 पैसे को इनंहासमेंट की किश्त मानकर प्लाट को डिफॉल्टर की श्रेणी से बाहर कर दिया।

लास्ट एंड फाइनल सेटलमेंट स्कीम : एक्सटेंशन फीस में 12 पैसे ज्यादा भरने पर प्लाटधारक को 15 लाख का फटका
X

हिसार। एचएसवीपी द्वारा तीन मार्च को इनंहासमेंट पर जारी 'लास्ट एंड फाइनल सेटलमेंट स्कीम' में बड़े स्तर पर गड़बड़ी के मामले सामने आ रहे हैं। स्कीम लांच होने के 11 दिन बाद भी एचएसवीपी द्वारा राशि अपडेट में हुई गड़बड़ियों को ठीक करने के लिए कोई प्रभावी आदेश जारी नहीं किए गए हैं। यह आरोप ऑल सेक्टर रेजिडेनटस वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप वत्स ने लगाया। उनका कहना है कि प्लाटधारक परेशानी में हुडा दफ्तरों के चक्कर लगा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि हिसार जोन के 9 सेक्टरों के कुल 4683 प्लाटों की राशि हुई अपडेट हुई है। इस स्कीम के तहत जिन 58 सेक्टरों के 15430 प्लाटों की राशि अपडेट हुई है। उन सभी सेक्टरों में पीपीएम सॉफ्टवेयर की गड़बड़ी से हजारों प्लाटधारकों के खातों में गलत राशि अपडेट हुई है। जिससे सेक्टरवासियों में भारी रोष है। ऑल सेक्टर रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री से इस स्कीम को होल्ड कर, सॉफ्टवेयर की गड़बड़ियों को ठीक कर, नियमों के अनुसार पुन: राशि अपडेट करने की मांग की है। वत्स ने कहा इस पूरे मामले पर मुख्यमंत्री के प्रिंसिपल सेक्रेटरी वी उंमाशकर को राशि अपडेट में हुई गड़बड़ियों के बारे में तथ्यों के साथ अवगत कराया गया है।

गड़बड़ी की आपत्ति दर्ज करवाएं सेक्टरवासी

कुलदीप वत्स का कहना है कि इस स्कीम के तहत किसी प्लाटधारक के खातें में गलत राशि अपडेट में हुई है। तो वो एक्सटेंशन फीस या अन्य कोई बकाया की ज्यादा भरी गयी राशि की रसीद संलग्न कर शिकायत एचएसवीपी कार्यालय में जमा करवाएं। इन सभी प्लाटधारकों की आपत्तियों पर एचएसवीपी मुख्य प्रशासक की अध्यक्षता में गठित ग्रीवेशं कमेटी अंतिम निर्णय लेगी। इस स्कीम को 3 मार्च से 30 अप्रैल तक दो माह के लिए लांच किया गया है। इसलिए सभी अलाटी जिनके खातों में गलत राशि अपडेट हुई है, जल्द अपनी लिखित शिकायत जोनल कार्यालयों में दर्ज करवाएं।

मात्र 12 पैसे एक्सटेंशन फीस ज्यादा भरने पर 15.50 लाख का नुकसान

वत्स के अनुसार हिसार सेक्टर 16,17, 13 पार्ट के प्लाट के अलाटी को मात्र 12 पैसे एक्सटेंशन फीस ज्यादा भरने पर लगभग 15.50 लाख रुपये अधिक राशि अपडेट हुई है। दरअसल अलाटी ने वर्ष 2016 तक की सात साल की एक्सटेंशन फीस राशि 32410 रुपये 88 पैसे भरते समय 32411 रुपये (मात्र 12 पैसे) ज्यादा जमा करवा दिए। जिसके कारण सॉफ्टवेयर ने 12 पैसे को इनंहासमेंट की किश्त मानकर प्लाट को डिफॉल्टर की श्रेणी से बाहर कर दिया। उनकी राशि अपडेट के बाद कुल देय राशि 22 लाख 12910 रुपये से घटाकर 20 लाख 19912 रुपये (मात्र 8.72 प्रतिशत) अपडेट की गयी है। जबकि इसी सेक्टर में अन्य डिफॉल्टर श्रेणी के प्लाटधारकों की लगभग 81 की तक राशि घटी है। यानि इस 12 पैसे के लिए लगभग 15.50 लाख रुपये अधिक राशि की डिमांड एचएसवीपी कर रहा है।

Next Story