Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एक घंटे के लिए चरखी दादरी की डीसी बनीं प्राचार्या, दिए कई सुझाव

उपायुक्त राजेश जोगपाल ने कैप्टन जिले सिंह अकादमी की प्राचार्या डॉ. नेहा दत्तिक को एक घंटे के लिए डीसी बनाया। उन्होंने प्राचार्या को सम्मान के साथ अपनी कुर्सी दी और जिले में कुछ नए आदेश जारी करने को कहा।

एक घंटे के लिए चरखी दादरी की डीसी बनीं प्राचार्या, दिए कई सुझाव
X

उपायुक्त की कुर्सी पर बैठी प्राचार्या डा. नेहार दत्तिक।

हरिभूमि न्यूज : चरखी दादरी

महिला सशक्तिकरण को प्रोत्साहन देते हुए उपायुक्त राजेश जोगपाल ने कैप्टन जिले सिंह अकादमी की प्राचार्या डॉ. नेहा दत्तिक को एक घंटे के लिए दादरी का डीसी बनाया। उन्होंने प्राचार्या को सम्मान के साथ अपनी कुर्सी दी और जिले में कुछ नए आदेश जारी करने को कहा। डॉ. नेहा दत्तिक ने उपायुक्त का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि एक आईएएस अफसर बनना उनके जीवन का अमूल्य सपना था, जो कि पूरा नहीं हो सका है।

उनकी यह तमन्ना रही है कि भारतीय प्रशासनिक सेवा में आकर वे आम नागरिकों की समस्याओं का समाधान करने और देश का विकास करवाने में अपना योगदान दें। उपायुक्त राजेश जोगपाल ने डॉ. नेहा को आश्वस्त किया कि वे अब एक घंटा के लिए दादरी की डीसी हैं और जो भी वे दिशा-निर्देश पारित करेंगी, उनकी पालना करवाई जाएगी। सबसे पहले प्राचार्या डॉ. नेहा दत्तिक ने दादरी की यातायात व्यवस्था को सुधारने के बारे में कहा। इस पर टेबल पर रखे जिले के ट्रैफिक प्लान को उपायुक्त ने डॉ. नेहा को सौंप दिया और कहा कि वे इसे पढ़कर अपने सुझाव दे सकती हैं। जिन्हें अमल में लाया जाएगा। तदोपरांत डॉ. नेहा ने जिले की चिकित्सा व्यवस्था, शैक्षणिक व्यवस्था में बदलाव के लिए अपने सुझाव रखे। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को और कुशल बनाना जरूरी है। जिससे हर मां-बाप अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने को तैयार हो। उपायुक्त ने आश्वासन दिया कि उनके सुझावों को अवश्य अमल में लाया जाएगा।

Next Story