Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोलकाता नाइट फाइटर्स टीम में खेलेंगे जींद के प्रदीप चहल

आठ से 15 मार्च तक होगा शारजांह के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में प्रतियोगिता का आयोजन, कोलकाता नाइट फाइटर्स की टीम का हिस्सा होंगे प्रदीप।

कोलकाता नाइट फाइटर्स टीम में खेलेंगे जींद के प्रदीप चहल
X

प्रदीप चहल

हरिभूमि न्यूज. जींद

आगामी आठ अप्रैल को दिव्यांग क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ऑफ इंडिया द्वारा शारजाह के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में दिव्यांग प्रीमियर लीग (डीपीएल) क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट में भारत के विभिन्न राज्यों से 90 चुने हुए खिलाड़ियों को छह टीम चेन्नई सुपर स्टार, दिल्ली चेलैंजर, कोलकाता नाइट फाइटर्स, मुंबई आइडियल, गुजरात हिटर्स और राजस्थान रजवाड़ा में रखा गया है।

इस लीग में जींद के गांव बडौदी निवासी खिलाड़ी प्रदीप चहल का भी चयन हुआ है। प्रदीप कोलकाता नाइट फाइटर्स की टीम का हिस्सा होंगे। प्रदीप ने बताया कि यह आयोजन 15 अप्रैल तक चलेगा। दिव्यांग क्रिकेट टीम में जगह बनाने के लिए उसने 2012 में भिवानी में ट्रायल दी थी। इसके बाद प्रदीप का हरियाणा की दिव्यांग क्रिकेट टीम में चयन हो गया। 2014 में प्रदीप हरियाणा टीम के कप्तान बने। उनकी कप्तानी में टीम ने नॉर्थ जोन प्रतियोगिता जीती। उनकी अच्छी बल्लेबाजी के लिए उन्हें 2014 में बेस्ट बेट्समैन चुना गया। उनके अच्छे खेल के दम पर 2015 में प्रदीप ने भारत की दिव्यांग क्रिकेट टीम में जगह बनाई। उन्होंने भारत की तरफ से 2015 में गुरुग्राम में पाकिस्तान के खिलाफ पहला मैच खेला। प्रदीप ने बताया कि अबतक वह 50 से 'यादा राष्ट्रीय मैच खेल चुके हैं। उसके अच्छे प्रदर्शन के दम पर अब 2021 में दिव्यांग प्रीमियर लीग में उनका चयन हुआ है।

उसका शुरू से ही क्रिकेट के प्रति रूझान था। प्रदीप ने 2007 में सामान्य खिलाड़ियों के साथ जिला स्तर पर क्रिकेट प्रतियोगिता में हिस्सा लेते हुए मैच खेले। वहीं राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में उनका चयन 16 सदस्यीय टीम में हुआ, लेकिन दिव्यांग होने के कारण उन्हें प्लेइंग-11 में जगह नहीं मिली। इसके बाद भी प्रदीप ने हार नहीं मानी और किक्रेट के प्रति अपने जुनून को जारी रखा। 2009 में सिरसा में डिप्लोमा इंजीनियरिंग करते हुए उन्होंने दिव्यांगों के पेरा ऑलंपिक गे स में हिस्सा लिया और हाइ जंप में ब्रांज मेडल जीता। वहां उन्हें अन्य खिलाडि़यों से दिव्यांग क्रिकेट टीम के बारे में जानकारी मिली। प्रदीप ने कहा कि दिव्यांग होने के चलते राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में उन्हें प्लेइंग-11 में जगह नहीं मिली तो उसने दिव्यांग क्रिकेट टीम की ओर रूख किया और कड़ी मेहनत करते हुए अच्छा प्रदर्शन जार रखा और अब 2021 में दिव्यांग प्रीमियर लीग में मैच खेलेंगे।


Next Story