Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तेदुंए को पकड़ने को लिए किए कई इंतजाम, फिर भी नहीं लगा सुराग

जाखन दादी क्षेत्र में घुसे तेंदुएं के अभी तक पकड़े न जाने पर क्षेत्र के लोगों में अभी भी सहमे हुए नजर आ रहे हैं। रतिया के एसडीएम जगदीश प्रसाद ने देर रात को भी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीम के साथ जाखन दादी क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए लोगों को घरों में रहने को कहा।

तेदुंए को पकड़ने को लिए किए कई इंतजाम, फिर भी नहीं लगा सुराग
X

पिंजरे में एक बकरे रखते विभाग के निरीक्षक।

रतिया (फतेहाबाद)

जाखन दादी क्षेत्र में घुसे तेंदुएं के अभी तक पकड़े न जाने पर क्षेत्र के लोगों में अभी भी सहमे हुए नजर आ रहे हैं। वन्य प्राणी विभाग की टीम ने पूरी रात 2 पिंजरो में बकरे आदि बांधकर तेंदुए को पकडऩे के लिए विशेष अभियान चलाया, लेकिन अभी तक तेंदुए का सुराग न लगने को लेकर वन्य प्राणी विभाग के अधिकारियों के अलावा लोगों में तरह-तरह के चर्चे किए जा रहे हैं। इधर दूसरी तरफ रतिया के एसडीएम जगदीश प्रसाद ने देर रात को भी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की टीम के साथ जाखन दादी क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए क्षेत्र के लोगों को घरों में रहने को कहा। आसपास के गांवों में मुनीयादी करवाई गई है।

वन्य प्राणी विभाग के अधिकारियों ने खेतों में ही हमला करने के बाद लापता हुए तेंदुए की तलाश को लेकर शनिवार रात्रि को जाखन दादी ढाणी के समीप खेतों में 2 विशाल पिंजरे लगाए गए थे और इन दोनों पिंजरों में बकरे आदि बांधे गए थे, ताकि तेंदुआ वहां पर आ सके। वन्य प्राणी विभाग की टीम के अलावा आस पास ढ़ाणियों में रहने वाले लोगों ने पूरी रात न केवल क्षेत्र में ठीकरी पहरा दिया, बल्कि तेंदुए के इंतजार को लेकर पिंजरे के ईद- गिर्द भी अपना जाल बिछाया। अब लोगों में संदेह है कि उपरोक्त तेंदुआ जाखन दादी के दो युवकों पर हमला करने के पश्चात अन्य किसी स्थान पर चला गया है या अन्य किसी जानवर को शिकार बना कर गेहूं की फसल में ही कहीं छुप गया है। हालांकि एक दिन पहले ही तेंदुए की तलाश को लेकर विभाग ने ड्रोन कैमरे के माध्यम से सर्च अभियान भी चलाया था, लेकिन इस अभियान में भी सफलता नहीं मिली थी। बताया जाता है कि इसके पश्चात उन्होंने अन्य योजनाओं के तहत पकडऩे के लिए विशेष टीम को भी आमंत्रित किया हुआ है। समाचार लिखे जाने तक विभाग के कर्मचारी तथा ढाणी में रहने वाले लोग अपने स्तर पर ही तेंदूए की तलाश में लगे हुए थे और जहां तक की पुलिस की गाडिय़ां भी समय-समय पर जाखन आदि क्षेत्र का दौरा कर रही थी।

Next Story