Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मात्र दो साल 10 माह की बच्ची का इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज, जानें ऐसा क्या किया

यमुनागनर की शंकर नगर कॉलोनी की नन्हीं बच्ची जसरीन कौर बमराह अपने सामान्य ज्ञान कौशल से नए आयाम छू रही हैं। इंटरेशनल बुक ऑफ रिकार्ड की ओर से नन्हीं बच्ची जसरीन कौर को मेडल व ट्राफी देकर किया गया सम्मानित।

मात्र दो साल 10 माह की बच्ची का इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज, जानें ऐसा क्या किया
X

पुरस्कार के साथ जसरीन कौर बमराह।

हरिभूमि न्यूज. यमुनानगर

कहते हैं, बच्चे के पांव पालने में ही दिख जाते हैं कि वह अपने जीवन में किस मुकाम पर पहुंचने वाला है। ऐसा ही शहर की शंकर नगर कॉलोनी की महज दो साल दस महीने की नन्हीं बच्ची जसरीन कौर बमराह अपने सामान्य ज्ञान कौशल से नए आयाम छू रही हैं। जसरीन कौर बमराह ने हाल ही में इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकार्ड द्वारा आयोजित किए गए कार्टून कैरेक्टर की पहचान कार्यक्रम में महज पौने तीन मिनट में 112 कार्टूनों की पहचान करके रिकार्ड बनाया है।

उन्हें आयोजकों की ओर से एक मेडल, प्रमाण पत्र व ट्राफी देकर सम्मानित किया गया है। अब तक जसरीन कौर बमराह विश्व रिकॉर्ड के चैंपियन बुक में भी अपना नाम दर्ज करवा चुकी हैं। शंकर नगर कॉलोनी निवासी मलकीत सिंह बमराह ने बताया कि उनकी बेटी जसरीन कौर बमराह दो साल दस महीने की हो चुकी है। अब तक उसने अपने सामान्य ज्ञान के बल पर पांच ट्राफियां हासिल कर जिले का नाम रोशन किया है। कुछ दिन पहले इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड में जसरीन कौर ने हिस्सा लेकर महज तीन मिनट 46 सैकेंड में 112 कार्टून कैरेक्टर की पहचान कर रिकार्ड स्थापित किया।

इस उपलब्धि के लिए जसरीन कौर को इंटरनेशनल बुक ऑफ रिकॉर्ड ने ट्राफी, मेडल और एक प्रमाण पत्र देकर उसे सम्मानित किया गया। उन्होंने बताया कि इससे पहले उनकी बेटी जसरीन कौर बमराह ने विश्व रिकॉर्ड के चैपियन बुक में भी अपना नाम दर्ज किया है और उसमे स्मार्टेस्ट और मोस्ट इंस्पायरिंग बेबी का खिताब हासिल किया है। उसने 2 साल 10 महीने की उम्र में अधिकतम सामान्य ज्ञान के प्रश्नाें के उत्तर देने का रिकॉर्ड बनाया है। सीबीआर में भी उन्हें ट्राफी, मेडल और प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया है। अब तक जसरीन को पांच ट्राफी, सात मेडल और 75 से अधिक प्रमाणपत्रों से सम्मानित किया जा चुका है।

Next Story