Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फतेहाबाद में जेबीटी शिक्षक की स्कूल से निकलते ही गोली मारकर हत्या

गांव दडोली वासी जितेंद्र कुमार डेढ़ साल से गांव रामसरा के प्राइमरी स्कूल में जेबीटी अध्यापक लगा हुआ था। बाइक सवार दो नकाबपोश युवकों ने वारदात को अंजाम दिया।

फतेहाबाद में जेबीटी शिक्षक की स्कूल से निकलते ही गोली मारकर हत्या
X

स्कूल के कमरे के गेट पर पड़ा टीचर का शव।

फतेहाबाद। जिले के भट्टू क्षेत्र के गांव रामसरा के सरकारी स्कूल के बाहर एक अध्यापक की बाइक सवार युवकों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इस हमले में मृतक का साथी अध्यापक बाल-बाल बच निकला। हालांकि अध्यापक ने जान बचाने के लिए भागकर कमरे में छिपने की कोशिश की लेकिन जान बचा नहीं सका। हमलावर पीछे-पीछे वहां तक भी आ गए और गोली लगने से कमरे के गेट के बीचों-बीच टीचर ने दम तोड़ दिया।

सूचना के बाद पुलिस ने मौके का मुआयना करके जांच शुरू कर दी है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया। जानकारी के अनुसारगांव दड़ौली निवासी जितेंद्र जेबीटी टीचर था और रामसरा के सरकारी प्राइमरी स्कूल में तैनात था। सोमवार को जितेंद्र स्विफ्ट कार से स्कूल आया था। छुट्टी के वक्त जैसे ही वह अपने साथी शिक्षक विनोद के साथ स्कूल से बाहर निकला और गाड़ी में बैठना चाहा तो वहीं गेट के पास बाइक पर सवार दो अज्ञात नकाबपोश युवकों ने उस पर फायरिंग कर दी। इसके बाद विनोद गांव की तरफ भाग गया जबकि जितेंद्र भाग कर स्कूल के कमरे में चला गया। बताया जा रहा है कि उसे एक-दो गोलियां पहले लग चुकी थी वहीं पीछा कर रहे बदमाश स्कूल के कमरे तक भी पहुंच गए और पीठ पर कई गोलियां दे मारी। इसके चलते जितेंद्र ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

बदमाशों ने 10 से ज्यादा फायर किए और टीचर को मौत के घाट उतारकर फरार हो गए। इस घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी राजेश कुमार, डीएसपी सत्येंद्र और भट्टू के एसएचओ ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके से 10 खोल बरामद किए हैं और मृतक टीचर के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए नागरिक अस्पताल भिजवा दिया है। पुलिस ने इस मामले में अज्ञात युवकों के खिलाफ हत्या के आरोप में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक प्राथमिक जांच में हत्या का कारण जमीन को लेकर चल रहा झगड़ा बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस जांच के बाद ही पूरे मामले का पटाक्षेप हो पाएगा।

Next Story