Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इनेलो नेता अभय चौटाला बोले- प्रदेश की जनता की आंखों में धूल झोंकने वाला है बजट

इनेलो नेता ने कहा कि 2000 से लेकर 2005 तक जब इनेलो सरकार थी तब 1966 से लेकर 2005 तक कुल 23319 करोड़ रुपए का कर्जा था। उस समय सरकार ने दस हजार करोड़ रुपए कर्जा लिया था जिसमें से 7300 करोड़ रुपए वापिस कर दिए गए थे। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी के शासनकाल के समय प्रदेश का रेवेन्यू बढ़ा था और आज तक का रिकार्ड है।

इनेलो नेता अभय चौटाला बोले- प्रदेश की जनता की आंखों में धूल झोंकने वाला है बजट
X

इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव अभय चौटाला ने रविवार को चंडीगढ़ पार्टी मुख्यालय में सरकार द्वारा विधानसभा में प्रस्तुत किए वर्ष 2021-22 के बजट पर प्रेसवार्ता कर कहा कि यह बजट प्रदेश की जनता की आंखों में धूल झोंकने वाला बजट है।

इनेलो नेता ने कहा कि कृषि, बिजली, ट्रांसपोर्ट, पब्लिक हेल्थ, ग्रामीण विकास, शिक्षा एवं स्वास्थ्य ऐसे विभाग हैं जो सीधे जनता से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि बजट में कृषि का हिस्सा जो वर्ष 2016-17 में 13.71, वर्ष 2017-18 में 12.49, 2018-19 में 12.22, 2019-20 10.31, 2020-21 में 12.42 था, अब घटाकर 10.33 प्रतिशत कर दिया। प्रदेश की जीडीपी में कृषि की हिस्सेदारी 1950 में जहां 50 प्रतिशत थी अब घटकर -5.7 प्रतिशत रह गई है। ग्रामीण विकास के लिए 2016-17 में 2.94, 2017-18 में 4.85, 2018-19 में 3.76, 2019-20 में 3.83, 2020-21 में 4.45 था, अब घटाकर 3.82 प्रतिशत कर दिया है।

शिक्षा के क्षेत्र में 2016-17 में 13.34, 2017-18 में 14.24, 2018-19 में 12.96, 2019-20 में 11.61, 2020-21 में 14.17 था, अब घटाकर 12.14 प्रतिशत कर दिया गया है। प्रदेश में 44 हजार पद शिक्षकों के खाली पड़े हैं।

इनेलो नेता ने कहा कि 2000 से लेकर 2005 तक जब इनेलो सरकार थी तब 1966 से लेकर 2005 तक कुल 23319 करोड़ रुपये का कर्जा था। उस समय सरकार ने दस हजार करोड़ रुपये कर्जा लिया था जिसमें से 7300 करोड़ रुपये वापस कर दिए गए थे। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी के शासनकाल के समय प्रदेश का रेवेन्यू बढ़ा था और आज तक का रिकार्ड है कि जो विकास हमारे समय में हुआ वो आज तक हरियाणा प्रदेश के इतिहास में कभी नहीं हुआ। हमारी सरकार दो हजार करोड़ रुपये का सरप्लस छोड़कर गई थी।

वर्ष 2014-15 में कांग्रेस जब सत्ता से गई तब प्रदेश पर लगभग 70 हजार करोड़ रुपये कर्ज था। आज वर्तमान की भाजपा गठबंधन सरकार पर लगभग दो लाख 43 हजार करोड़ रुपये का कर्जा है। इस वर्ष कर्ज की देनदारी 48537 करोड़ रखी गई है जो कुल राशि का 30.80 प्रतिशत बनता है। भाजपा सरकार ने स्वयं स्वीकार किया है कि पिछले साल कोई भी विकास का कार्य नहीं हुआ तो लिए गए कर्ज की राशि कहां गई? साफ है कि सारा पैसा सरकार में बैठे लोगों द्वारा डकार लिया गया। हालात ये हैं कि आज प्रदेश में जन्म लेने वाला हर बच्चा एक लाख रुपए का कर्जा सिर पर लेकर पैदा होता है। 2008 के बाद प्रदेश में डेफिसेट बढ़ता आ रहा है।

इनेलो नेता ने कहा कि सरकार द्वारा डीसी रेट जो नौकरियां दी जाती हैं आज उसका नाम 'दुष्यंत कान्ट्रेक्ट रेट' हो गया है। आज हालात ये हैं कि डीसी रेट पर नौकरी पाने के लिए एक महीने की तनख्वाह बतौर रिश्वत ली जाती है। जो लोग बच्चों का भविष्य सुधारने की बात कहते थे आज उनको भी लूट लिया है।

रजिस्ट्री और शराब घोटाले पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि विधानसभा में कांग्रेस ने इस पर चर्चा तक नहीं की। उन्होंने कहा कि भूपेंद्र दहिया जो शराब घोटाले में शामिल थे, उससे नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र हुड्डा ने चुनाव में 21 लाख रुपये चंदे के ले रखे हैं। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को दोनों घोटालों की रिपोर्ट सदन पटल पर रखनी चाहिए और उन सभी का नाम उजागर करना चाहिए जो दोषी हैं।

महिला सुरक्षा पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए इनेलो नेता ने कहा कि महिलाओं को अपमानित करना जहां कांग्रेस की कल्चर रही है वहीं भाजपा ने कभी महिलाओं का सम्मान ही नहीं किया।

Next Story