Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गाय का घी मिला अनसेफ, देशी घी व वनस्पति ऑयल भी नहीं उतरा मानकों पर खरा

त्योहारों के सीजन के मध्यनजर खादय एवं सुरक्षा विभाग (Food and safety department) पंचकूला की टीम ने गत 29 सितम्बर को खादय सुरक्षा अधिकारी सुभाष चंद्र के नेतृत्व में पिल्लूखेड़ा के चौधरी मिल्क फूड तथा जय दुर्गा फूड प्रोडेक्ट के यहां दस्तक दी थी।अब मिली सैंपल रिपोर्टों (Sample Reports) में इसका खुलासा हुआ है।

गाय का घी मिला अनसेफ, देशी घी व वनस्पति ऑयल भी नहीं उतरा मानकों पर खरा
X

 पिल्लूखेड़ा में फर्मों से खादय पदार्थों के सैंपल लेते हुए टीम का फाइल फोटो

हरिभूमि न्यूज : जींद

अब गाय का घी तथा देशी घी के साथ-साथ वनस्पति ऑयल (Vegetable oil) भी लोगों की सेहत बिगाड़ रहा है। ऐसा ही खुलासा जिला खादय एवं सुरक्षा विभाग (District Food and Safety Department) को मिली सैंपल रिपोर्टो में हुआ। पिल्लूखेड़ा में खाद्य एवं सुरक्षा विभाग द्वारा चौधरी मिल्क फूड, जय दुर्गा फूड प्रोडेक्ट के लिए गए दस सैंपल गुणवत्ता के मापदंडों पर खरे नहीं पाए गए हैं। प्रशांत ब्रांड का गाय का घी अनसेफ पाया गया है। खादय एवं सुरक्षा विभाग द्वारा दोनों फर्मों के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई है।

त्योहारों के सीजन के मध्यनजर खादय एवं सुरक्षा विभाग पंचकूला की टीम ने गत 29 सितम्बर को खादय सुरक्षा अधिकारी सुभाष चंद्र के नेतृत्व में पिल्लूखेड़ा के चौधरी मिल्क फूड तथा जय दुर्गा फूड प्रोडेक्ट के यहां दस्तक दी थी। टीम ने चौधरी मिल्क फूड प्रोडेक्ट से प्रशांत ब्रांड का गाय का घी, डेयरी टच देशी घी, अनमोल सागर देशी घी के सैंपल भरे थे। जबकि जय दुर्गा फूड प्रोडेक्ट से दिशा वनस्पति, हरी जी वनस्पति, कूकिंग मीडियम मदर लाइट, मोती रत्न वनस्पति, मधु श्याम वनस्पति, डिप प्रीमियम वेजीटेबल ऑयल, मधु सेफ कुकिंग मीडियम के सैंपल भरे थे। जिन्हें जांच के लिए लैबोरेटरी भेजा गया था। खादय एवं सुरक्षा विभाग को मिली रिपोर्ट में प्रशांत गाय घी अनसेफ पाया गया है। जबकि अन्य नौ सैंपल सबस्टेंडड तथा मिस ब्रांडेड पाए गए हैं। गाय के घी के नाम से बेचा जा रहा घी सेहत के लिए हानिकारक पाया गया है। नौ अन्य ब्रांड भी मापदंडों पर खरे नहीं पाए गए हैं। जिनके खिलाफ विभाग ने कार्रवाई की सिफारिश की है।

जिला खादय एवं सुरक्षा अधिकारी डा. राजीव ने बताया कि पिल्लूखेड़ा की दो फर्मो से दस सैंपल लिए गए थे। जिसमें एक सैंपल अनसेफ, जबकि नौ सैंपल सब स्टेंडड तथा मिस ब्रांडेड पाए गए हैं। दोनों फर्मो के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई है।



Next Story