Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑनलाइन बीमा पाॅलिसी करने के नाम पर खातों से 13 लाख की ठगी करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा राज्य के रोहतक जिले से पुलिस ने ऑनलाइन बीमा पॉलिसी करने के नाम पर धोखाधड़ी करने की वारदात का खुलासा किया है। धोखाधड़ी करके साढ़े 13 लाख रुपये हड़पने के आरोप में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। आरोपित कॉल सेंटर में काम करते हैं और मिल कर काफी समय से गिरोह चला रहे थे।

ऑनलाइन बीमा पाॅलिसी करने के नाम पर खातों से 13 लाख की ठगी करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार
X
आरोपी गिरफ्तार (प्रतीकात्मक फोटो)

हरियाणा राज्य के रोहतक जिले से पुलिस ने ऑनलाइन बीमा पॉलिसी करने के नाम पर धोखाधड़ी करने की वारदात का खुलासा किया है। धोखाधड़ी करके साढ़े 13 लाख रुपये हड़पने के आरोप में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया। आरोपित कॉल सेंटर में काम करते हैं और मिल कर काफी समय से गिरोह चला रहे थे। जिसमें कई और लोग शामिल हो सकते हैं। आरोपितों को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया। आरोपितों से पूछताछ में करीब 40 वारदातों का खुलासा हुआ है।

मामले के अनुसार एआर यादव निवासी सैक्टर-एक ने थाना अर्बन एस्टेट में शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने बताया कि उनके पास वर्ष 2014 में बीमा कंपनी एंजेट के नाम से नितिन गुप्ता का फोन आया और बीमा पॉलिसी लेने के लिए कहा। उन्होंने झांसे मे आकर 4 लाख रुपये की बीमा पॉलिसी के लिए रुपये दे दिए। उसके बाद पीड़ित ने इंश्योरेंस पॉलिसी का बांड भेजने के लिए कहा तो व्यकित ने फोन कर 10 हजार रुपये की मांग की।

शिकायकर्ता ने दस हजार रुपये का भुगतान कर दिया लेकिन आरोपित ने मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर दिया। अगले दिन किसी अन्य व्यकित ने उनको उस व्यक्ति के स्थानंतरण के बारे में बताकर बीमा राशि प्राप्त करने के लिए 20 हजार रुपये की मांग की। उन्होंने 20 हजार रुपये का भुगतान करने पर दूसरे व्यकित ने भी मोबाईल फोन बंद कर लिया। ठीक इसी प्रकार कई व्यक्तियों द्वारा बार बार सम्पर्क किया गया और राशि को वापस प्राप्त करने का झूठा सांझा देकर निरंतर रुपये हड़पे गए। साईबर ठगों द्वारा इस दौरान करीब साढे 13 लाख की ठगी की गई।

मामले की जांच प्रभारी पुलिस चौकी सैक्टर-एक के एएसआई संजय ने की। जांच के दौरान उन्होंने छापेमारी करते हुए अरविंद निवासी नोबातपुर बिहार हाल सैक्टर-17 द्वारका दिल्ली को रोहतक व मंयक निवासी हरी नगर दिल्ली हाल सैक्टर-15 तारा नगर दिल्ली को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। दोनों कॉल सेंटर में नौकरी करते हैं। जांच में सामने आया कि ठगों ने 2014 से 2017 तक अलग-अलग करीब 40 खातों में रुपयों की ट्रांजेक्सन कर ठगी की वारदात को अंजाम दिया है।

वारदात में शामिल अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं। आरोपितों को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। ठगों को गिरफ्तार कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। कई और वारदातों का खुलासा होने की उम्मीद है। उनके गिरोह में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।


Next Story