Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रोहतक : कार लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश

गिरोह का मुख्य सरगना अमित उर्फ गोलू है जो दोनों वारदातों में शामिल रहा है। उसने अपने साथियों के साथ मिलकर वारदातों को अंजाम दिया है।

रोहतक :  कार लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश
X

हरिभूमि न्यूज : रोहतक

पुलिस की सीआईए-2 टीम ने कार लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का खुलासा किया है। चार आरोपितों को दो कारों समेत काबू किया है। डीएसपी सज्जन कुमार ने बताया कि कुछ दिनों पहले रोहतक में अज्ञात युवकों द्वारा कार लूट की वारदातों को अंजाम दिया गया था। मामले में कार्रवाई के लिए सीआईए 2 को जिम्मेदारी सौंपी गई। इंचार्ज नरेश कुमार की टीम को सूचना मिली कि जीन्द रोड ड्रेन नम्बर-8 पर चार युवक लूटी हुई कार सहित वारदात करने के इरादे से खड़े हैं। सूचना मिलते ही एसआई भरत सिंह के नेतृत्व में सीआईए-2 टीम ने छापेमारी की। मौके से चार युवकों को काबू किया गया। आरोपितों से कार लूट की दो वारदातों के बारे में खुलासा हुआ है। उनके पास से दोनों कार बरामद हुई है।

गिरोह का मुख्य सरगना अमित उर्फ गोलू है जो दोनों वारदातों में शामिल रहा है। उसने अपने साथियों के साथ मिलकर वारदातों को अंजाम दिया है। अमित ने ही फोन पर बहादुरगढ़ से दोनों कार बुक की थी। दोनों ही वारदातों को गांव बैंसी-खरैंटी रोड पर अंजाम दिया गया है। आरोपितों का एक साथी विनोद फरार चल रहा है। जिसे गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी की जा रही है।

शौक पूरे करने के लिए कर रहे वारदात: अमित उर्फ गोलू निवासी गांव फरमाणा खास की उम्र-21 साल है। वह 10वीं पास है। सन्नी निवासी गांव बैसी की उम्र 25 साल है। वह अनपढ़ है और मजदूरी करता है। आकाश निवासी गांव फरमाणा खास की उम्र-21 साल है। वह बीए सेकेंड का छात्र है। दीपक उर्फ दीपू निवासी गांव फरमाणा खास का है। उसकी उम्र-18 साल है और वह 11वीं कक्षा का छात्र है। सभी युुवक शौक पूरे करने के लिए गाड़ी लूट की वारदात को अंजाम दे रहे हैं।

इनको अंजाम देना कबूला

- 9 सितम्बर को शाम के समय अमित ने ओला कंपनी से बहादुरगढ़ से गांव बैंसी के लिए कार बुक की थी। कार में अमित के साथ उसके दोस्त सन्नी व विनोद भी सवार थे। रात करीब 10 बजे जब कार गांव खरैंटी से बैंसी रोड पर पहुंची तो युवकों ने कार को रूकवाकर चालक को गाड़ी से नीचे उतारा और कार लूट कर फरार हो गए। कार में चालक का मोबाइल फोन, पर्स व 5000 रुपये भी थे।

- 17 सितम्बर को अमित ने बहादुरगढ़ से एयरपोर्ट जाने के लिए ओला कंपनी से कार बुक की थी। सेक्टर-9 बहादुरगढ़ से अमित कार में सवार हुआ और कार चालक को गांव खरैंटी से पत्नी को एयरपोर्ट छोड़ने के बारे में कहा। कार जब गांव बैंसी से खरैंटी रोड पर चली तो अमित के साथी आकाश व दीपक लूटी हुई कार में सावर होकर आए और कार के आगे कार अड़ा दी। चालक पर हमला कर कार व मोबाइल फोन लूट लिया। अमित, आकाश व दीपक दोनों कारों को लेकर मौके से फरार हो गए।

Next Story