Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पूरे विश्व की सबसे मेधावी छात्रा बनी भिवानी के डीसी की बेटी

शुभावी आर्य ने कंप्यूटर साइंंस में पीएचडी के लिए अमेरिका की इंडियाना यूनिवर्सिटी मेंं आरक्षित केवल एक सीट पर पाया करीब ढाई करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप पर दाखिला।

पूरे विश्व की सबसे मेधावी छात्रा बनी भिवानी के डीसी की बेटी
X

शुभावी आर्य। 

हरिभूमि न्यूज . भिवानी

विलक्षण और बहुमुखी प्रतिभा की धनी हरियाणा की बेटी शुभावी आर्य ने विश्व में देश व प्रदेश का गौरव बढ़ाने के साथ.साथ विश्व की मेधावी छात्रा होने का गौरव हासिल किया है। शुभावी आर्य भिवानी के उपायुक्त जयबीर सिंह आर्य की सुपुत्री है। शुभावी विश्व की एकमात्र ऐसी छात्रा बनी हैं, जिन्होंने कंप्यूटर साईंस में पीएचडी के लिए अमेरिका की इंडियाना यूनिवर्सिटी मेंं आरक्षित केवल एक सीट पर करीब ढ़ाई करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप पर दाखिला पाया है, जो कि अमेरिका की करीब तीन लाख 33 हजार डॉलर है। शुभावी फिलहाल अमेरिका के मिनयापोलिस शहर में यूनिवर्सिटी ऑफ मिनीसोटा में कंप्यूटर साईंस एंड साईक्लॉजी की ड्यूल मेजर, बेचलर ऑफ साईंस में अंतिम वर्ष की स्टूडेंट है।

यहां यह भी बताना जरूरी है कि कंप्यूटर साईंस में रिसर्च के लिए निर्धारित महज एक सीट के लिए पूरे विश्वभर से विद्यार्थियों ने भाग लिया था, जिसमें मेरिट के आधार पर शुभावी का चयन हुआ है। पांच वर्षीय इस कोर्स में शुभावी कंप्यूटर साईंस में अपनी दो साल की मास्टर डिग्री पूरी करने के साथ.साथ पीएचडी यानि रिसर्च भी करेंगी। शुभावी को कंप्यूटर साईंस में रिसर्च के लिए मिली दो करोड़ 50 लाख रुपए की स्कॉलरशिप में स्टाईफंड, ट्यूशन फीस, हेल्थ इंश्योरेंस और ट्रेवल अलाऊंस शामिल हैं।

63 हजार सिंगापुर डाॅलर की स्कालरशिप की हासिल की

इससे पहले शुभावी ने कनेडियन इंटरनेशनल स्कूल, सिंगापुर के मिडल ईयर प्रोग्राम के तहत कक्षा 9 वीं और 10 वीं कक्षा के दौरान भी 63 हजार सिंगापुर डॉलर की स्कॉलरशिप हासिल की थी। यह स्कॉलरशिप कनेडियन इंटरनेशनल स्कूल सिंगापुर ने दी थी, जो कि दो वर्ष के लिए थी। यह स्कॉलरशिप 30 देशों के विद्यार्थियों की आयोजित एक संयुक्त परीक्षा में प्रथम स्थान हासिल करने पर शुभावी आर्य को मिली थी। यह स्कॉलरशिप भी केवल एक ही छात्र को मिलनी थी।

आइस स्केटिंग की इंटरनेशनल खिलाड़ी और एनीमेशन फिल्म मेकर भी हैं शुभावी

बहुमुखी प्रतिभावान शुभावी आर्य न केवल एक होनहार छात्रा है, बल्कि आईस स्केटिंग की अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी और एनीमेशन फिल्म निर्देशक और फिल्म मेकर भी है। उन्होंने 15 वर्ष की आयु में अंडर 18 आयु वर्ग में अमेरिका इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवव अर्वार्ड में कांस्य पदक अपने नाम किया, वह फिल्म शुभावी के द्वारा लिखी व निर्देशित की गई थी। शुभावी भारत वर्ष की सबसे युवा एनीमेकर फिल्म निर्देशिका है, जिसकी एनीमेशन मूवी, एडवेंचर ऑफ मालिया, 30 इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल और 10 देशों में स्क्त्रीन हो चुकी है तथा 11 इंटरनेशनल फिल्म अर्वार्ड जीत चुकी है। उन्होंने 16 वर्ष की आयु में एडवेंचर ऑफ मालिया बनाई थी।

अनेक अर्वाड अपने नाम किए हैं शुभावी ने

शुभावी आर्य ने एक नहीं बल्कि अनेकों अवार्ड अपने नाम किए हैं। वर्ष 2015 में आस्ट्रेलिया में आयोजित कलर टेप फिल्म इंटरनेशन फिल्म फेस्टिवल में फोरन फिल्म ऑनरेरी मेंशन अवार्ड में वे विनर रही हैं। इस बारे में शुभावी के पिता एवं भिवानी के उपायुक्त जयबीर सिंह ने कहा कि यह सब शुभावी की मेहनत का परिणाम है। उनको अपनी बेटी की इस सफलता पर बेहद खुशी है कि उन्होंने वर्ल्ड की एकमात्र रिसर्च सीट पर करीब ढ़ाई करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप पर दाखिला पाया है। शुभावी की सफलता देश व प्रदेश की अन्य बेटियों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत है।

Next Story