Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नया मोड़ : अब आयुर्वेद विशेषज्ञ मनीष ने पीएम मोदी से आयुर्वेद और एलोपैथिक डॉक्टरों के बीच बहस कराने का अनुरोध किया

गुरु मनीष जी शुद्धि आयुर्वेद के संस्थापक हैं, जिनका मुख्यालय चंडीगढ़ के पास है और इसके बैनर तले 160 से अधिक आयुर्वेद क्लीनिक चलते है।

नया मोड़ : अब आयुर्वेद विशेषज्ञ मनीष ने पीएम मोदी से आयुर्वेद और एलोपैथिक डॉक्टरों के बीच बहस कराने का अनुरोध किया
X

आयुर्वेद विशेषज्ञ गुरु मनीष 

एलोपैथी को लेकर बाबा रामदेव की विवादित टिप्पणी से शुरू हुई एलोपैथी और आयुर्वेद के बीच जंग को अब एक नया मोड़ मिल गया है। बाबा रामदेव के बाद अब एक प्रख्यात आयुर्वेद विशेषज्ञ गुरु मनीष आयुर्वेद के समर्थन में उतरे हैं।

गुरु मनीष जी शुद्धि आयुर्वेद के संस्थापक हैं, जिनका मुख्यालय चंडीगढ़ के पास है और इसके बैनर तले 160 से अधिक आयुर्वेद क्लीनिक चलते है। गुरु मनीष जी ने पीएम नरेन्द्र मोदी (Pm Narendra Modi) को बैठक के लिए एक पत्र लिखा है जिसमे आयुर्वेद चिकित्सकों को कोविड 19 और ब्लैक फंगस के प्रभावी आयुर्वेदिक इलाज से संबंधित उपचार का विवरण पीएमओ को देने का मौका मिल सके।

गुरु मनीष जी ने विवाद को एक नया मोड़ देते हुए कहा, "मैंने पीएम मोदी से अनुरोध किया है जो कि आयुर्वेद की समृद्ध विरासत के प्रचार के लिए बहुत कुछ कर रहे हैं और साथ ही उनसे आयुर्वेद और एलोपैथी डॉक्टरों के बीच बहस करने का भी अनुरोध किया है, ताकि जनता को पता चल सके कि आयुर्वेद विशेषज्ञ किसी बीमारी का इलाज कैसे करते हैं और एलोपैथ की उपचार प्रक्रिया क्या है।

Next Story