Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिसार नागरिक अस्पताल में तीमारदार ने डॉक्टर को थप्पड़ जड़ा, दो घंटे ओपीडी रही बंद, जानें पूरा विवाद

घटना के विरोध में चिकित्सकों ने हड़ताल की जिस कारण दो घंटे ओपीडी बंद रहने से मरीज परेशान रहे, पुलिस ने युवती समेत दो लोगों को पकड़ा।

हिसार नागरिक अस्पताल में तीमारदार ने डॉक्टर को थप्पड़ जड़ा, दो घंटे ओपीडी रही बंद, जानें पूरा विवाद
X
हिसार सिविल अस्पताल।

हरिभूमि न्यूज : हिसार

नागरिक अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात डॉ. हिमांशु जांगड़ा को मरीज के साथ आई तीमारदार युवती द्वारा थप्पड़ जड़ने पर शुक्रवार की सुबह अस्पताल में भारी हंगामा हुआ। घटना के विरोध में अस्पताल के चिकित्सकों ने ओपीडी सेवा बंद कर दी और हड़ताल पर चले गए। चिकित्सकों ने डॉ. हिमांशु के साथ मारपीट करने के आरोपितों को गिरफ्तार करने व अस्पताल परिसर में पुलिस चौकी खोलने की मांग उठाई। बाद में डीएसपी अशोक कुमार ने बताया कि युवती सहित दो आरोपितों को काबू कर लिया। इस पर चिकित्सकों ने हड़ताल वापस ले ली और ओपीडी सेवा फिर से बहाल कर दी। करीब दो घंटे ओपीडी सेवा बंद रहने से मरीजों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

यह था मामला

आजाद नगर में रहने वाले एवं नागरिक अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. हिमांशु जांगड़ा की इमरजेंसी में रात्रि के समय ड्यूटी थी। रात्रि को मिलगेट निवासी रितु इमरजेंसी में उपचार के लिए आई। उसे पेटदर्द की शिकायत थी। रितु के साथ उसकी बहन सुनीता निवासी भूथन जिला फतेहाबाद भी आई। डॉ. हिमांशु का आरोप है कि मरीज के साथ आई तीमारदार सुनीता ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया और उसकी वीडियो बनाने लगी। इस पर आपत्ति जताई तो सुनीता व एक अन्य युवक ने उसके साथ मारपीट करते हुए सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने का काम किया। इस मामले में डॉ. हिमांशु की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित युवती सुनीता और एक युवक के खिलाफ धारा 188, 323, 452 और अन्य के तहत केस दर्ज कर लिया। चिकित्सकों द्वारा ओपीडी बंद करके हड़ताल पर चले जाने पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपितों को काबू कर लिया। उधर, पूरा घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई, जिसमें दिखाई दे रहा है कि महिला वीडियो बना रही है और चिकित्सक जब इसका विरोध करते हैं तो उसके साथ मारपीट की जाती है।

चक्कर काटने पर भी नहीं दी दवा

उधर, महिला मरीज के साथ आई तमीरदार युवती ने कहा कि वह रात को अपनी बहन को दवा दिलवाने के लिए नागरिक अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में आई थी। बार-बार चिकित्सक के पास चक्कर काटने के बाद भी दर्द से तड़प रहे मरीज का उपचार नहीं किया गया। काफी इंतजार के बाद जब वह चिकित्सक की वीडियो बनाने लगी तो उसने फोन छीन लिया। इस दौरान उसके साथ हाथापाई हो गई।

दवा दे दी थी

महिला मरीज के पेट में दर्द था और उसे इंजेक्शन भी दे दी गया था। इसी बीच सड़क हादसे में घायल व्यक्ति आया हुआ था और उसका उपचार किया जा रहा था। एक युवती बार-बार आ रही थी और कह रही थी कि उसके मरीज को दवा दे दो। युवती को बताया गया कि दवा दे दी है और आराम थोड़ी देर में आ जाएगा। वह युवती वीडियो बनाने लगी, जब उसे ऐसा करने से मना किया तो हाथापाई पर उतर आई। -डॉ. हिमांशु जांगड़ा, नागरिक अस्पताल

दोनों काबू

नागरिक अस्पताल के चिकित्सक की शिकायत पर सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने व मारपीट करने के आरोप में आरोपित युवक तथा युवती को काबू कर लिया गया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। - कप्तान सिंह, शहर थाना प्रभारी, हिसार

Next Story