Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं वे ऑनलाइन करें आवेदन, सरकार देगी 12 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि

लाभार्थियों के फार्म भरने के बाद जिला, खण्ड व ग्राम स्तरीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा जांच की जाएगी। जांच के बाद लाभार्थी द्वारा दो गड्ढे वाला शौचालय का निर्माण किया जाएगा। इसके उपरांत जिला, खण्ड व ग्राम स्तरीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा शौचालय निर्माण की चैकिंग की जाएगी कि वास्तव में लाभार्थी द्वारा सरकार के निर्देशानुसार दो गड्ढे वाला शौचालय का निर्माण कर लिया गया है या नहीं। इसके बाद लाभार्थी के बैंक खाते में 12 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि जारी की जाएगी।

सुलभ शौचालय
X
 शौचालय (फाइल फोटो)

भिवानी : ग्रामीण क्षेत्र के ऐसे परिवार, जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं, इन परिवारों के लिए भारत सरकार ने शौचालय बनाने हेतू ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए गए हंै। दो गड्ढे वाला शौचालय बनाने पर आवेदक को 12 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके लिए भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय की वेबसाइट एसबीएमडॉटलीओवीडॉटइन/एसबीएम_डीबीटी/सिक्योर/लॉगइनडॉटएएसपीएक्स पर आवेदन फार्म सिटीजन टू प्रोवाइड आईएचएचएल ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुशल कटारिया ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण के दूसरे चरण में जिले के सभी गांवों में ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन की व्यवस्था के साथ-साथ ओडीएफ की स्थिति को बनाए रखना है। जिले में ओडीएफ की स्थिति को बनाए रखने के लिए आवश्यकता अनुसार गांव में सार्वजनिक शौचालय का निर्माण भी करवाया जा रहा है। इसके अतिरिक्त सरकार ने एक बार फिर उन परिवारों को दो गड्ढे वाला शौचालय बनाने का मौका दिया है, जिनके पास अपना व्यक्तिगत शौचालय नहीं है। शौचालय निर्माण की इस तकनीक में शौचालय की कुई के स्थान पर एक-एक मीटर के दो जालीदार ईंटो के गड्ढे बनाए जाते हैं, जिसमें प्राकृतिक तरीके से जीवाणु उत्पन्न होकर ठोस कणों को खाद में बदल देते हैं, जिससे शौचालय की कुई को बार-बार खाली करवाने की समस्या से निजात मिलती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए जरूरतमंद व्यक्ति ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

जिला परिषद के सीईओ ने बताया कि भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय की वेबसाइट एसबीएमडॉटलीओवीडॉटइन/एसबीएम_डीबीटी/सिक्योर/लॉगइनडॉटएएसपीएक्स पर ऐप्लिकेशन फार्म सिटीजन टू प्रोवाइड आईएचएचएल ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं। लाभार्थियों के फार्म भरने के बाद जिला, खण्ड व ग्राम स्तरीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा जांच की जाएगी। जांच के बाद लाभार्थी द्वारा दो गड्ढे वाला शौचालय का निर्माण किया जाएगा। इसके उपरांत जिला, खण्ड व ग्राम स्तरीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा शौचालय निर्माण की चैकिंग की जाएगी कि वास्तव में लाभार्थी द्वारा सरकार के निर्देशानुसार दो गड्ढे वाला शौचालय का निर्माण कर लिया गया है या नहीं। इसके बाद लाभार्थी के बैंक खाते में 12 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि जारी की जाएगी। इस योजना का लाभ उठाने के लिए जिले की सभी ग्राम पंचायतों में 24 अप्रैल 2022 को आयोजित हो चुकी ग्राम सभा में भी इस पर विस्तार से चर्चा की गई थी। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने आमजन से अपील की है कि ग्रामीण क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति खुले में शौच के लिए बाहर न जाए, अपना शौचालय का प्रयोग कर जिले में ओडीएफ की स्थिति बनाए रखने में सहयोग करें।

और पढ़ें
Next Story