Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में स्कूल खुलने के बाद मनीष सिसोदिया ने विद्यालय का लिया जायजा, छात्रों से भी की बातचीत

कोरोना महामारी (Corona Virus) के चलते दिल्ली मे 19 महीने से बाद स्कूलों के एक बार फिर खोल दिया गया है। हाल ही में डीडीएमए (Delhi Disaster Management Authority) ने 1 नवंबर से दिल्ली के सभी स्कूलों और कॉलेजों को कोरोना प्रोटोकॉल के साथ फिर से खोलने की अनुमति दी थी।

दिल्ली में स्कूल खुलने के बाद मनीष सिसोदिया ने विद्यालय का लिया जायजा, छात्रों से भी की बातचीत
X

कोरोना महामारी (Corona Virus) के चलते दिल्ली मे 19 महीने से बाद स्कूलों के एक बार फिर खोल दिया गया है। हाल ही में डीडीएमए (Delhi Disaster Management Authority) ने 1 नवंबर से दिल्ली के सभी स्कूलों और कॉलेजों को कोरोना प्रोटोकॉल के साथ फिर से खोलने की अनुमति दी थी। डीडीएमए (DDMA) ने कहा है कि स्कूलों को यह सुनिश्चित करना होगा कि एक बार में एक कक्षा में 50 प्रतिशत से अधिक उपस्थिति न हो और कोई भी छात्र सीधी कक्षाओं में जाने के लिए बाध्य न हो।

इसी बीच डीडीएमए के आदेश का सभी स्कूलों में सख्ती से पालन किया जा रहा है। वही इस मौके पर शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) पश्चिम विनोद नगर (Vinod Nagar) स्थित सर्वोदय विद्यालय का जायजा लिया और छात्राओं से बातचीत भी की। उन्होंने कहा मुझे खुशी है कि बच्चे स्कूल वापस आ गए हैं। आज उनका पहला दिन है, धीरे-धीरे बच्चों और अभिभावकों का भी आत्मविश्वास बढ़ेगा, बड़ी मुश्किल से स्कूल खुले तो सामान्य कक्षाएं भी धीरे-धीरे शुरू होंगी।

मैं प्रार्थना करता हूं कि यह ऐसा ही रहे और स्कूलों को फिर से बंद न करना पड़े। उन्होंने आगे कहा कि हम बच्चे के भविष्य को लेकर ज्यादा जोखिम नहीं उठा सकते। स्कूल खुलने से बच्चों में काफी खुशी है। माता-पिता को तय करना है कि अपने बच्चों को स्कूल भेजना है या नहीं। सभी बच्चे स्कूल आना चाहते हैं।

वही कोरोना संकट को देखते हुए डीडीएमए ने प्राचार्यों, शिक्षकों और छात्रों के लिए विस्तृत गाइडलाइन (Guideline) जारी की है। डीडीएमए ने अपनी गाइडलाइन में कहा है कि अभिभावक की अनुमति के बाद ही छात्र स्कूल आएंगे। किसी भी अभिभावक को अपने बच्चे को स्कूल भेजने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।

Next Story