Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छेड़छाड़ का केस वापस नहीं लेने पर किशोरी का कत्ल, मृतका के पिता को दी थी धमकी

बुआ को कॉल कर कहा कि- ‘मैंने आपकी भतीजी की हत्या कर दी है।’ पढ़िए पूरी खबर-

छेड़छाड़ का केस वापस नहीं लेने पर किशोरी का कत्ल, मृतका के पिता को दी थी धमकी
X

बिलासपुर। छेड़खानी का केस वापस नहीं लेने पर किशोरी की हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने किशोरी के पिता को फोन केस वापस नहीं लेने पर जान से मारने की धमकी दी थी। हत्या के बाद आरोपी ने किशोरी की बुआ को कॉल कर कहा कि- 'मैंने आपकी भतीजी की हत्या कर दी है। उसकी लाश शिव मंदिर चौक पर पड़ी है।'

जानकारी के मुताबिक कोनी थाना क्षेत्र के ग्राम कछार निवासी 16 साल की वंशिका उर्फ मुस्कान मानिकपुरी सरकंडा के एक स्कूल में 11वीं की पढ़ाई कर रही थी। आरोपी अक्सर उससे छेड़छाड़ करता था। किशोरी ने इसकी शिकायत सरकंडा थाने में की तो पुलिस ने उसके खिलाफ छेड़खानी के अलावा पॉक्सो एक्ट की धाराओं के तहत कार्रवाई की थी। युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। जमानत पर छूटने के बाद वह किशोरी के परिजनों को लगातार केस वापस लेने के लिए धमका रहा था।

20 दिन पहले उसने किशोरी के पिता से कहा था कि यदि वह केस वापस नहीं लेगा तो उसकी बेटी की हत्या कर देगा। इसके बाद किशोरी के पिता ने उसे बुआ के घर भेज दिया था।

वह कुछ दिनों से अपनी बुआ प्रिया मानिकपुरी के घर कोटा क्षेत्र के ग्राम लमेर में रह रही थी। रात 3:05 बजे दीपक ने किशोरी की बुआ को फोन कर बताया कि मैंने आपकी भतीजी की हत्या कर दी है। उसकी लाश शिव मंदिर चौक पर पड़ी है। सुनकर बुआ के होश उड़ गए। किशोरी घर पर नहीं थी। उसने घर के अन्य सदस्यों को बताया और सभी किशोरी को ढूंढने निकले।

युवक के बताई जगह पर गए तो किशोरी वहां पड़ी मिली। तब उसके शरीर में हलचल थी। उसकी सांस चल रही थी पर कुछ बोल नहीं पा रही थी। 108 से उसे कोटा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। कोटा पुलिस ने शव को कब्जे लेकर उसका पोस्टमार्टम कराया और आरोपी युवक की खोजबीन शुरू की। शुक्रवार को उसका पता नहीं चल पाया। पुलिस उसके दोस्तों से पूछताछ कर रही है।

इस मामले में टीआई राजकुमार शोरी का कहना है कि- 'घटना कहीं और की हो और लाश को ठिकाने किसी और जगह लगाया गया हो इसकी भी आशंका जताई जा रही है। यह काम केवल अकेले युवक के बस की बात नहीं है।'

Next Story