Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रायगढ़ कैशवैन लूटकांड का महज 10 घंटे में पर्दाफाश, साढ़े 14 लाख कैश समेत 2 आरोपी गिरफ्तार

रायगढ़ कैशवैन लूटकांड मामले का पर्दाफाश हो गया है. रायगढ़ पुलिस ने महज 10 घंटे के भीतर ही लूट के रकम और हथियार समेत 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आईजी दीपांशु काबरा के नेतृत्व में अलग अलग टीम बनी थी जिसमें भूपदेवपुर थाना क्षेत्र के डोंगाढ़केल परसदा के पास पुराना कबाड़ी के घर छुपे थे.

रायगढ़ कैशवैन लूटकांड का महज 10 घंटे में पर्दाफाश, साढ़े 14 लाख कैश समेत 2 आरोपी गिरफ्तार
X

रायगढ़. रायगढ़ कैशवैन लूटकांड मामले का पर्दाफाश हो गया है. रायगढ़ पुलिस ने महज 10 घंटे के भीतर ही लूट के रकम और हथियार समेत 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. आईजी दीपांशु काबरा के नेतृत्व में बनी अलग -अलग टीम आरोपियों की तलाश में जुटी थी. दोनों आरोपी भूपदेवपुर थाना क्षेत्र के डोंगाढ़केल परसदा के पास पुराना कबाड़ी के घर छुपे थे. सुराग मिलते ही आरोपियों को दबोच लिया गया.

बता दें कि कल दोपहर लगभग 13.55 बजे थाना कोतरारोड़ अन्तर्गत किरोड़ीमलनगर आजाद चौक स्थित SBI के एटीएम में पैसा डालने आए कैश वैन को बाइक सवार दो नकाबपोश लुटेरों द्वारा निशाना बनाया था. आरोपियों द्वारा कैशवेन के ड्राइवर और गार्ड (गनमैन) को गोली मारकर मौके से करीब 14. लाख 50 रुपए लूटकर चिराईपाली के रास्ते भूपदेवपुर की ओर भाग गए थे. घटना में ड्रायवर की मृत्यु हो गई है तथा घायल गार्ड (गनमैन) को इलाज के लिए जिंदल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घटना की सूचना मिलते ही वरिष्ठ अधिकारियों के साथ, शहर के सभी थाना/चौकी प्रभारी घटनास्थल पहुंचे थे. पुलिस कन्ट्रोल रूम के पाइंट से पूरे जिले की सीमाएं सील कर अज्ञात आरोपियों की पतासाजी के लिए नाकेबंदी कर तलाशी अभियान चलाया गया.

घटनास्थल निरीक्षण पर करीब 06 राउंड गोली मौके पर चलने की जानकारी मिली है, आरोपीगण CD डिलक्स बाईक में थे जो नीले रंग की ट्रैकशुट पहने थे. पुलिस टीम द्वारा घटनास्थल एवं आरोपियों के भागने वाले रास्तों में लगे CCTV कैमरों का फुटेज निकलवाया गया.

बिलासपुर रेंज आई.जी. दीपांशु काबरा भी घटना की सूचना मिलते ही सड़क मार्ग से रायगढ़ पहुंचे, पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार घटनास्थल का मुआयना कर घटना की विस्तृत जानकारी लेकर पुलिस टीम को माल मुल्जिम की पतासाजी के लिए महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिये थे. वहीं सूचना देने पर 20000 का इनाम घोषित किया गया. इसके साथ ही पुलिस की अलग-अलग आठ टीमें बनाकर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी.





Next Story