Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजनांदगांव में सियासी पारा गर्म, विधायक पति पर एफआईआर के बाद रेत खदानों में भी उबाल

राजनांदगांव में सियासी पारा गर्म, विधायक पति पर एफआईआर के बाद रेत खदानों में भी उबाल
X

खुज्जी की विधायक छन्नी साहू के पति चंदू साहू के खिलाफ अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण कानून के तहत एफआईआर का असर यहां की राजनीति पर भी दिख रहा है, तो वहीं रेत खदानों में भी इसे लेकर तमाम चर्चाएं जारी हैं। पढ़िए पूरी खबर-

राजनांदगांव। खुज्जी की कांग्रेस विधायक छन्नी साहू के पति चंदू साहू के खिलाफ पुलिस ने मारपीट और एट्रोसिटी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर सियासी पारे में गरमाहट ला दी है। छुरिया के एक कांग्रेस नेता के चालक के साथ हुई इस घटना के बाद आदिवासी समाज द्वारा दी गई आंदोलन की चेतावनी के चलते पुलिस द्वारा आरोपी चंदू साहू के खिलाफ 294, 506, 3 1 द ध अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार खुज्जी विधायक छन्नी साहू के पति चंदू साहू के खिलाफ बीर सिंह उइके पिता तलप सिंह उईके निवासी जोब ने पुलिस के समक्ष एक शिकायती आवेदन प्रस्तुत किया था। आवेदन में प्रार्थी बीर सिंह ने यह उल्लेखित किया था कि वह छुरिया के कांग्रेस नेता तरूण सिन्हा की गाड़ी चलाता है। बीते दिनों रेत से भरी हुई ट्रक को देखकर विधायक पति चंदू साहू ने वीर सिंह उईके साथ मारपीट और जान से मारने की धमकी दी। बीर सिंह ने पुलिस को बताया कि जब उन्होंने विधायक पति को यह बताया कि यह ट्रक कांग्रेस नेता तरूण सिन्हा की है, तब वे आगबबुला हो गए और उसके साथ जमकर गाली-गलौज की। विधायक पति द्वारा किए गए इस अभ्रद व्यवहार के बाद आदिवासी समाज ने ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की थी। मामले में छुरिया पुलिस ने आज विधायक पति चंदू साहू के खिलाफ मारपीट के अलावा एट्रोसिटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज किया है। कांग्रेस विधायक छन्नी साहू के पति चंदू साहू के खिलाफ मारपीट और एस्ट्रोसिटी एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज होते ही सियासी पारा गर्म हो गया है। इस पूरे मामले को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं भी व्याप्त हो गयी है। बताया जा रहा है कि यह पूरा विवाद कहीं न कहीं रेत के उत्खनन से भी जुड़ा हुआ है। ऐसे में रेत खदानों में भी इन दिनों इस घटना को लेकर तमाम चर्चाएं जारी हैं।

Next Story