Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नवा रायपुर में मोटर ट्रेनिंग सेंटर शुरू, 110 ने किया आवेदन, ट्रेनिंग फीस भी तय

मोटर ट्रेनिंग सेंटर में करीब 11 तरह की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें हैवी वाहन के लिए 30 दिन, कार के लिए 21 दिन से लेकर एक दिन की ट्रेनिंग कोर्स शामिल है। हैवी वाहन के 30 दिन की ट्रेनिंग के लिए करीब 7500 और 18 फीसदी टैक्स देना होगा। जबकि कार की ट्रेनिंग के लिए 3500 रुपए और 18 फीसदी टैक्स जोड़कर बतौर फीस जमा करना होगा। पढ़िए पूरी ख़बर..

नवा रायपुर में मोटर ट्रेनिंग सेंटर शुरू, 110 ने किया आवेदन, ट्रेनिंग फीस भी तय
X

रायपुर: नवा रायपुर के ग्राम तेंदुआ में इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च की शुरुआत के साथ ही ट्रेनिंग लेने वालों के आवेदन पहुंचने लगे हैं। जल्द ही यहां ट्रेनिंग शुरु कर दी जाएगी। परिवहन विभाग ने ट्रेनिंग के लिए फीस भी निर्धारित कर दी है। नए साल में आवेदकों की ट्रेनिंग शुरु हो जाएगी। ट्रेनिंग के बाद आवेदकों को लाइसेंस दिया जाएगा और उन्हें नौकरी मिलने की संभावना भी बढ़ जाएगी। दरअसल, ग्राम तेंदुआ में 17 करोड़ की लागत से 20 एकड़ में राज्य का पहला इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च बनाया गया है। मारुति सुजुकी कंपनी के स्पेशलिस्ट ट्रेनर द्वारा ड्राइविंग की ट्रेनिंग दी जाएगी।

110 ने किया आवेदन

जानकारी के मुताबिक मोटर ट्रेनिंग सेंटर में ट्रेनिंग लेने वालों आवेदन जमा हाे रहे हैं। अब तक करीब 110 लोगाें ने ट्रेनिंग के लिए आवेदन किया है। इनमें भारी वाहन से लेकर कार की ट्रेनिंग लेने वाले आवेदक भी शामिल हैं। छत्तीसगढ़ ही नहीं दूसरे राज्यों के लोगों ने भी यहां से ट्रेनिंग लेने के लिए आवेदन किया है।

8 आकृति वाले ट्रैक पर ट्रेनिंग

अफसरों के मुताबिक इंस्टीट्यूट में ट्रेनिंग के लिए अलग-अलग तरह के ट्रैक बनाए गए हैं। आईडीटीआर में आठ आकृति वाले ट्रैक, ग्रेडीयंट, रिवर्स पार्किंग, लेन चेंजिंग्स की ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद परीक्षा ली जाएगी, जिसके बाद चालक को ड्राइविंग लाइसेंस मिलेगा।

शुल्क कर दिया निर्धारित

मोटर ट्रेनिंग सेंटर में ट्रेनिंग लेने वालों के लिए शुल्क निर्धारित कर दिया गया है। आवेदकों ने आवेदन भी किया है।

- शैलाभ साहू, आरटीओ, रायपुर

Next Story