Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मैनपाट बना शिमला, कड़ाके की ठण्ड से नलों में जम गया बर्फीला पानी

छत्तीसगढ के शिमला कहे जाने वाले पहाडी इलाके मैनपाट मे तापमान 2 डिग्री से भी नीचे। मौसम विभाग के मुताबिक दिसम्बर के अंत मे अम्बिकापुर का तापमान 4 से 5 डिग्री तक पहुंच सकता है। क्रिसमस पर मैनपाट का मौसम शिमला का एहसास करा सकता है। सैलानियों की संख्या मे इजाफा होने की उम्मीद। पढ़िए पूरी ख़बर...

मैनपाट बना शिमला, कड़ाके की ठण्ड से नलों में जम गया बर्फीला पानी
X

अम्बिकापुर: छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग में ठंड का असर दिखने लगा है। संभाग के सभी 6 जिलों में औसत तापमान करीब 10 डिग्री सेल्सियस के आसपास रिकार्ड किया गया है। वहीं छत्तीसगढ के शिमला कहे जाने वाले पहाडी इलाके मैनपाट मे तापमान 2 डिग्री से भी नीचे जा सकता है। जबकि दिसंबर महीने की 12 तारीख को अम्बिकापुर संभाग में सबसे ठंडी रात दर्ज की गई थी। इसके साथ ही मौसम विभाग ने ये अनुमान लगाया है कि इस माह के अंत मे अम्बिकापुर का तापमान 4 से 5 डिग्री तक पहुंच सकता है। क्रिसमस पर मौसम शिमला का एहसास करा सकता है। गौरतलब है कि इस महीने 12 दिसम्बर को अम्बिकापुर मे 8।5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया था। जो अभी तक संभाग का न्यूनतम तापमान है। इसके अलावा मौसम वैज्ञानिक अक्षय मोहन भट्ट ने बताया कि अगले तीन- चार दिन अभी उत्तर भारत से लगातार शुष्क हवा आती रहेगी। उत्तर भारत की शीतलहर का व्यापक असर 22से 23 दिसम्बर तक रह सकता है। वहीं छत्तीसगढ के शिमला कहे जाने वाले पहाडी इलाके मैनपाट मे मैदानी इलाके की तुलना मे तापमान करीब 2 डिग्री सेल्सियस कम रहता है। इससे ये उम्मीद है कि क्रिसमस पर यहां का मौसम वास्तव मे शिमला की तरह हो सकता है। इस कारण सैलानियों की संख्या मे इजाफा होने की उम्मीद है।

Next Story