Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मंदी की चपेट में सराफा, पर सोना लगातार उछल रहा, अब 55 हजार पार

कोरोना के कहर की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण भले सराफा बाजार बंद है, लेकिन सोने की कीमत लगातार आसमान छू रही है। शुक्रवार को राजधानी में सोना रिकार्ड 55 हजार 400 रुपए प्रति तोले की कीमत तक जा पहुंचा। इस कीमत पर ही कुछ व्यापारियों ने सौदा भी किया है। हालांकि सराफा बाजार इस समय पूरी तरह से मंदी की चपेट में है।

मंदी की चपेट में सराफा, पर सोना लगातार उछल रहा, अब 55 हजार पार
X

रायपुर. कोरोना के कहर की वजह से लगे लॉकडाउन के कारण भले सराफा बाजार बंद है, लेकिन सोने की कीमत लगातार आसमान छू रही है। शुक्रवार को राजधानी में सोना रिकार्ड 55 हजार 400 रुपए प्रति तोले की कीमत तक जा पहुंचा। इस कीमत पर ही कुछ व्यापारियों ने सौदा भी किया है। हालांकि सराफा बाजार इस समय पूरी तरह से मंदी की चपेट में है।

बमुश्किल 25 फीसदी ही कारोबार हो रहा है। इस समय सारे सौदे फोन पर ही हो रहे हैं। चांदी भी रिकार्डतोेड़ 63 हजार 800 की ऊंचाई पर पहुंच गई है। सोने की कीमत में पिछले माह से लगातार तेजी आई है। पहले सोना पचास हजारी बना, इसके बाद अब 55 हजारी भी हो गया है। पिछले दस दिनों में कीमत में पांच हजार का उछाल आया है। पिछले माह तक तो सोने की लगातार बढ़ती कीमतों ने सराफा बाजार को संजीवनी देने का काम किया। कोरोना के कारण दो माह तक लॉकडाउन का दंश झेलने वाले कारोबारी बाजार में आई तेजी से खुश हुए और खूब कारोबार किया। व्यापारी उम्मीद कर रहे थे, सोने की बढ़ती कीमत के कारण अभी बाजार में रौनक रहेगी, लेकिन कीमतों में इतनी ज्यादा तेजी आ गई है कि बाजार मंदी की चपेट में आ गया है। इस समय वैसे भी बाजार लॉकडाउन के कारण बंद है। व्यापारियों का 25 फीसदी तक कारोबार फोन के माध्यम से हो रहा है।

कीमत बढ़ी, व्यापार मंदा

रायपुर सराफा एसोसिएशन के उपाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण लाहोटी बताते हैं, सोने की कीमत 55 हजार के पार भले हो गई है, पर कारोबार मंदा पड़ गया है। उनका कहना है, कीमत में इजाफे का कारण बाहर के देशों से आयात न होना तो है ही, निवेश के प्रति लोगों का रुझान भी है। लोग निवेश के तौर पर भी सोना खरीद रहे हैं, लेकिन आम लोगों की खरीदारी नहीं के बराबर है।

ऐसे बढ़ती गई कीमत

सराफा कारोबारी बताते हैं, पिछले माह दूसरे सप्ताह तक सोने की कीमत 46 हजार पांच सौ के आसपास थी। चांदी की कीमत भी करीब इतनी ही थी। 17 जून को पहली बार सोना 49 हजार से पार होकर 49 हजार 310 रुपए पहुंचा। इसके बाद कीमत में उतार-चढ़ाव का खेल चल रहा है। 18 जून को कीमत में कमी आने पर 21 जून तक सोना 49 हजार से कम रहा, लेकिन 22 जून को एक बार फिर से तेजी आई और कीमत जा पहुंची 49460 रुपए। इसके बाद 25 जून को यह कीमत पचास हजार के करीब पहुंचते हुए 49770 तक चली गई और फिर दो दिन बाद सोना पचास हजारी भी हो गया। इसके बाद सोना जुलाई में 50 हजार से भी आगे बढ़ते चला गया और 21 जुलाई से 31 के बीच इसकी कीमत बढ़ती हुई 55 हजार के पार हो गई।

Next Story
Top