Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी को बताया बड़ा मुद्दा, जदयू बोली- लोगों को भटका रही राजद

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार में एक बार फिर बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा बताया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि युवा अबकी बार अच्छी शिक्षा, विकास व रोजगार के मुद्दे पर काम करने वाली बिहार में सरकार चुनेंगे। वहीं जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने पलटवार किया है। रंजन ने कहा कि राजद रोजगार को लेकर सिर्फ जनता को भटकाने का काम कर रही है।

tejashwi yadav told unemployment big issue and jdu counterattacked
X
तेजस्वी यादव ने बिहार में बताया बेरोजगारी काे बड़ा मुद्दा।

बिहार विधानसभा चुनावों में बेरोजगारी बड़ा मुद्दा बनता हुआ नजर आ रहा है। बिहार में विपक्षी पार्टियां राजद और कांग्रेस सत्ताधारी पार्टियों भाजपा और जदयू को बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर लगातार घेर रही हैं। भाजपा और जदयू द्वारा भी विपक्षियों को लगातार आंकड़े बताकर चुप कराने की कोशिश की जा रही है। इसी कड़ी में शनिवार को राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर एक बार फिर चुनावों के दौरान बिहार में बेरोजगारी को बड़ा मुद्दा बताया है। उन्होंने कहा कि बिहार में हर जात-धर्म के युवा सरकार प्रदत्त बेरोज़गारी से तंग हैं। तेजस्वी यादव ने दावा किया कि बिहार के युवा इस बार अच्छी शिक्षा, बेहतर चिकित्सा, विधि व्यवस्था, विकासशील और रोजगार के मुद्दे पर काम करने वाली युवा सरकार चुनेंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि जो सरकार युवाओं के सपनों, आकांक्षाओं व अपेक्षाओं को समझकर उन्हें पूरा करना जानती हो।



राजद नेता ने नीतीश कुमार पर भी साधा निशाना

राजद नेता तेजस्वी यादव ने अन्य ट्वीट के माध्यम से नाम लिये बगैर बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा है। राजद नेता ने कहा कि अपनी सत्ता लोलुपता के लिए विगत दो विधानसभा चुनावों में उन्होंने जनादेश का अपमान किया है। साथ ही बिहार का फ़ुटबाल बनाकर राज्य को बर्बाद कर दिया है। राजद नेता ने कहा कि विगत एक दशक में उन्होंने बिहार में ऐसी कोई पार्टी नहीं छोड़ी है। जिससे उन्होंने गठबंधन कर धोखा ना दिया हो। अबकी बार उन्हें जनता सबक सिखाएगी।



राजद के 15 वर्षों में 93 हजार नौकरियां दी, वहीं नीतीश कुमार ने दी 7 लाख : जदयू प्रवक्ता

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने ट्वीट कर राजद नेता तेजस्वी यादव के आरोपों पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव रोज़गार के सवालों के माध्यम से जनता को सिर्फ भटकाने का प्रयास कर रहे हैं। राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि लालटेन युग के 15 वर्षों के कार्यकाल में बिहार में सिर्फ 93 हज़ार नौकरियां दी गई। जदयू प्रवक्ता ने कहा कि वहीं नीतीश कुमार के 15 वर्षों के कार्यकाल में बिहार में 7 लाख से कहीं अधिक लोगों को नौकरियां दी गईं हैं।




Next Story