Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जेलों में इंटरव्यू के आधार पर डॉक्टर होंगे बहाल, स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर करने के लिए उठाया जा रहा कदम

बिहार में विभिन्न जेलों में डॉक्टरों की कमी चल रही है। वहीं जेलों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर करने के लिए 70 डॉक्टरों की बहाली की जाएगी।

Doctors will be reinstated on interviews basis in jails of bihar Career news in hindi
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) की कई केंद्रीय जेल (Central jail), मंडल जेल (Mandal Jail) और उप जेलों (Sub jails) में डॉक्टरों (doctors) की कमी चल रही है। इसी बात को देखते हुए एवं स्वास्थ्य व्यवस्था (Health system) को और बेहतर करने के लिए बिहार की कई केंद्रीय काराओं, मंडल काराओं और उप काराओं में 70 डॉक्टरों की बहाली (Reinstatement of doctors) की जाएगी। सभी डॉक्टरों की बहाली वॉक इन इंटरव्यू (Interview) के आधार पर होगी। वॉक इन इंटरव्यू प्रक्रिया 10 से 13 मई के बीच होगी। सभी बहाली संविदा (11 महीने) के लिए होगी। ध्यान रहे सभी आवेदक के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होना अनिवार्य है। जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर सेंट्रल कारा और इसके अधीन मंडल जेल व उप जेलों में डॉक्टरों के पदों के अनुपात में 30 से 40 प्रतिशत की कमी चल रही है। वहीं बिहार की सभी जेलों में महिला चिकित्सकों का काफी अभाव है।

जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा के बताए अनुसार बिहार की जेलों के लिए दो श्रेणियों में डॉक्टरों की बहाली की जाएगी। उन्होंने बताया कि जेलों के लिए 13 विशेषज्ञ और 57 सामान्य डाक्टरों की बहाली होगी। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया के लिए विभाग की ओर से कई शर्त रखी गई हैं। जेलों में तैनात होने वाले विशेषज्ञ डॉक्टर को 82 हजार और सामान्य डॉक्टर को 62 हजार रुपये हर माह भुगतान किया जाएगा।

चार दिनों तक चलेगा साक्षात्कार

जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा के अनुसार डॉक्टरों का चयन वाक इन इंटरव्यू के आधार पर होगा। हाजीपुर स्थित बिहार सुधारात्मक प्रशासनिक संस्थान में सुबह 10 बजे से साक्षात्कार होगा। वहीं कोरोना प्रोटोकॉल के मद्देनजर अल्फाबेटिक तरीके से साक्षात्कार की व्यवस्था की गई है। जानकारी के अनुसार 10 मई को ए (A) से डी (D) अल्फाबेट से शुरू होने वाले नामों के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार होगा। इसके बाद 11 मई को ई से एम, 12 मई को एन (N) से आर (R) और 13 मई को एस (S) से जेड (Z) तक के अभ्यर्थियों के लिए साक्षात्कार की प्रक्रिया होगी। साक्षात्कार के दौरान अभ्यर्थियों को शैक्षणिक प्रमाण पत्र के साथ-साथ आवासीय, जाति, क्रीमिलेयर में नहीं आने से संबंधित प्रमाण पत्र लाने होंगे। इसके अलावा बिहार राज्य चिकित्सा पर्षद से स्थायी रजिस्ट्रेशन का मूल प्रमाण पत्र और तीन पासपोर्ट साइज फोटो भी लाने होंगे।

Next Story