Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

UP Mission 2022 : ओवैसी के दोस्त ओपी राजभर ने की बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मुलाकात, बोले- यह राजनीति, यहां कुछ भी संभव

बीजेपी को लगातार कोसने और चुनाव जीतने के बाद योगी आदित्यनाथ की संपत्ति जब्त कराने की धमकी देने वाले ओम प्रकाश राजभर ने लखनऊ में स्वतंत्र देव सिंह से मुलाकात की। स्वतंत्र देव सिंह के आवास पर करीब एक घंटे हुई इस मुलाकात के बाद यूपी की सियासत तेज हो गई है।

UP Mission 2022 : ओवैसी के दोस्त ओपी राजभर ने की बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह से मुलाकात, बोले- यह राजनीति, यहां कुछ भी संभव
X

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर और यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की फाइल फोटो।  

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के साथ यूपी विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारियों में जुटे सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने आज सियासी हलचलें तेज कर दीं। बीजेपी को लगातार कोसने और चुनाव जीतने के बाद योगी आदित्यनाथ की संपत्ति जब्त कराने की धमकी देने वाले ओम प्रकाश राजभर ने लखनऊ में मंगलवार को भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह से मुलाकात की। स्वतंत्र देव सिंह के आवास पर करीब एक घंटे हुई इस मुलाकात के बाद यूपी की सियासत तेज हो गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह से मिलने के बाद सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि यह एक शिष्टाचार भेंट थी। हालांकि एक सवाल के जवाब में उन्होंने यह भी कहा कि यह राजनीति है और यहां कुछ भी संभव है। राजभर ने कहा कि राजनीति में यह देखते रहना चाहिए कि कौन कब क्या कर रहा है। उन्होंने कहा कि अगर ममता बनर्जी और सोनिया गांधी मिल सकती हैं, जब मायावती और अखिलेश मिल सकते हैं तो राजनीति में कुछ भी संभव है।

बता दें कि ओम प्रकाश राजभर की पार्टी यूपी विधानसभा चुनाव असदुद्दीन ओवैसी के साथ मिलकर लड़ने का ऐलान कर चुकी है। ओमप्रकाश राजभर की तरह ही ओवैसी भी योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जहर उगलते रहे हैं। उन्होंने कई मंचों पर कहा है कि चाहे कुछ भी हो जाए, योगी आदित्यनाथ को दोबारा यूपी का सीएम नहीं बनने देंगे। वहीं भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व लगातार स्पष्ट करता आ रहा है कि यूपी विधानसभा चुनाव योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा। ऐसे में ओवैसी के दोस्त ओम प्रकाश राजभर का बीजेपी के यूपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्रदेव से मिलना नए सियासी समीकरण की संभावनाओं का जन्म दे रहा है। यही कारण है कि इस मुलाकात के बाद यूपी की सियासत में एक तरह का भूचाल आ गया है।

Next Story