Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बलिया गोलीबारी कांड: मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को जिला अदालत में किया गया पेश, मिली 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

बलिया गोलीबारी कांड: मुख्य आरोपी बीजेपी नेता धीरेंद्र सिंह को जिला अदालत में आज पेश किया गया। जहां मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

बलिया गोलीबारी कांड: मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को जिला अदालत में किया गया पेश, मिली 14 दिनों की न्यायिक हिरासत
X

मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह को मिली 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

बलिया गोलीबारी कांड: मुख्य आरोपी बीजेपी नेता धीरेंद्र सिंह को बलिया जिला अदालत में आज पेश किया गया। जहां बलिया जिला अदालत के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। उन्हें कल लखनऊ में यूपी पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने गिरफ्तार किया था।

बता दें मुख्य आरोपी बीजेपी नेता धीरेंद्र सिंह का आज मेडिकल जांच करवाया गया। इसके बाद बलिया पुलिस ने मुख्य आरोपी को आज जिला अदालत में पेश किया। जहां जिला अदालत के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

हालांकि बलिया पुलिस मुख्य आरोपी को रिमांड पर ले सकती है। पुलिस का कहना है कि रिमांड में लेने के बाद आरोपी से पूछताछ की जाएगी। इस दौरान गोलीबारी कांड से जुड़े एक-एक बयान को दर्ज किया जाएगा। फिलहाल आरोपी को जेल भेज दिया गया।

बीजेपी विधायक का आरोपी पक्ष में बयान

उधर, इस घटना को लेकर बलिया से बीजेपी विधायक मुख्य आरोपी के पक्ष में एक साये की तरह उसके साथ खड़े हैं। आरोपी को बेगुनाह साबित करने में हर संभव प्रयास में लगे हैं। साथ ही उनका कहना है कि इस घटना में महिला पर भी हमला हुआ, लेकिन लोग उसका कोई जिक्र नहीं करेगा।

पुलिस को एकतरफा नहीं बल्कि हर मामले की जांच करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि धीरेंद्र सिंह ने आत्मरक्षा में गोली चलाई। अगर उसने इस भीड़ पर गोली चलाई होती तो उसके कई रिश्तेदार मारे जाते। वहीं, मुख्य आरोपी के परिवार की मांग है कि इस घटना की सीबीआई जांच हो।

बलिया का गोलीबारी कांड

गौरतलब है कि 15 अक्टूबर को बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव में कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर दो पक्षों में विवाद चल रहा था। इस दौरान बीजेपी नेता धीरेंद्र प्रताप सिंह उर्फ डब्ल्यू ने अपने साथियों के साथ मिलकर दूसरे पक्ष पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

इस फायरिंग में स्थानीय निवासी जयप्रकाश पाल को गोली लगी। जहां इलाज के लिए अस्पताल ले जाते समय जयप्रकाश की मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने धीरेंद्र प्रताप सिंह समेत 8 लोगों के खिलाफ फआईआर दर्ज किया गया था।

घटना के तीन दिन बाद मुख्य आरोपी धीरेंद्र समेत सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।



Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story