Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान पूरे देश में अव्वल, जानलेवा बीमारी पर लगा अंकुश

राजस्थान में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य बेहतर तरीके से चल रहा है यहां स्वास्थ्यकर्मी स्वयं उत्साह से आगे आकर वैक्सीन लगवा रहे हैं। यही वजह है कि राज्य में कोरोना वायरस पर काफी हद तक नियंत्रण किया जा चुका है।

कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान पूरे देश में अव्वल, इस घातक बीमारी पर लगा अंकुश
X

कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान पूरे देश में अव्वल

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य बेहतर तरीके से चल रहा है यहां स्वास्थ्यकर्मी स्वयं उत्साह से आगे आकर वैक्सीन लगवा रहे हैं। यही वजह है कि राज्य में कोरोना वायरस पर काफी हद तक नियंत्रण किया जा चुका है। वहीं कोरोना वैक्सीनेशन के मामले में राजस्थान पूरे देश में अव्वल है। राजस्थान सभी मानकों पर ग्रीन केटेगरी में शामिल है। सीएमआर में हुई कोरोना वैक्सीनेशन समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना से जीत के लिए हेल्थ वर्कर्स का जल्द से जल्द शत-प्रतिशत टीकाकरण होना जरूरी है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उन्होंने कहा कि स्वास्थ्यकर्मी स्वयं उत्साह से आगे आकर वैक्सीन लगवा रहे हैं। टीकाकरण के राष्ट्रीय औसत के मुकाबले राजस्थान आगे है। गहलोत ने कहा कि राजस्थान देश का एकमात्र ऐसा राज्य है जो टीकाकरण के बेहतर मानकों के अनुरूप ग्रीन केटेगरी में है। प्रदेश में वैक्सीनेशन साइट्स की संख्या बढ़ाने के निर्देश भी मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना पर अंकुश लगाने के हर बेहतर कार्य किए जा रहे हैं।

टीकाकरण से कोई गंभीर या असामान्य दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिला

सीएम गहलोत ने कहा कि टीकाकरण से कोई गंभीर या असामान्य दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिला है। लिहाजा लोगों को उत्साह से टीकाकरण करवाना चाहिए और भ्रांति से बचना चाहिए। वहीं राजस्थान में वैक्सीन का वेस्टेज प्रतिशत भी 10 के मुकाबले 3.40 हो गया है। रविवार से 167 की जगह 350 साइट्स पर वैक्सीनेशन होगा। जरूरत पड़ने पर इसे और बढ़ाया जा सकता है। निजी अस्पतालों में भी साइट्स की संख्या बढ़ाई जा सकती है।

Next Story