Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान सरकार का तोहफा, कर्मचारियों को दिवाली बोनस देगी सरकार, वेतन कटौती होगी स्वैच्छिक

राजस्थान में कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। राज्य सरकार ने कर्मचारियों को दिवाली का बोनस देने का फैसला किया है इतना ही सरकार ने कोरोना वायरस के कारण वेतन में कटौती को अनिवार्य नहीं बल्कि स्वैच्छिक कर दिया है।

राजस्थान सरकार का तोहफा, कर्मचारियों को दिवाली बोनस देगी सरकार, वेतन कटौती होगी स्वैच्छिक
X

राजस्थान सरकार का कर्मचारियों को तोहफा

राजस्थान में कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। राज्य सरकार ने कर्मचारियों को दिवाली का बोनस देने का फैसला किया है इतना ही सरकार ने कोरोना वायरस के कारण वेतन में कटौती को अनिवार्य नहीं बल्कि स्वैच्छिक कर दिया है। राज्य के विभिन्न कर्मचारी संगठनों की मांग पर प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार कोविड-19 के चलते की जा रही वेतन कटौती के निर्णय से पीछे हट गई है।

राज्य में अब वेतन कटौती अनिवार्य नहीं बल्कि स्वैच्छिक होगी। पूर्व में राज्य सरकार ने कोरोना महामारी को देखते हुये राशि जुटाने के लिए कर्मचारियों के वेतन में कटौती को अनिवार्य कर दिया था। चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को छोड़कर सभी कर्मचारियों की सितंबर के महीने से वेतन कटौती हो रही थी। वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्णय के अनुसार बोनस का 25 प्रतिशत हिस्सा नकद देय होगा, 75 प्रतिशत राशि कर्मचारी के सामान्य प्रावधाई निधि खाते (जीपीएफ) में जमा करवाई जाएगी।

एक जनवरी 2004 एवं इसके बाद नियुक्त कर्मचारियों को देय तदर्थ बोनस एक पृथक योजना तैयार कर उसमें जमा कराया जाएगा। राज्य के 7.30 लाख से अधिक कर्मचारियों को बोनस देने से राजकोष पर 500 करोड़ का वित्तीय भार आएगा।

प्रतिमाह दो दिन का काटा जा रहा था वेतनो

कोरोना महामारी की वजह से राजस्थान सरकार के कर्मचारियों का प्रति माह 2 दिन का वेतन काटा जा रहा था। गैर राजपत्रित अधिकारियों के एक दिन की वेतन कटौती हो रही थी। वित्त विभाग के अधिकारियों के अनुसार वेतन कटौती से सीएम रिलीफ फंड में करीब 2 अरब रुपए जमा हुए हैं। प्रदेश के विभिन्न कर्मचारी संगठन मुख्य सचिव से लेकर मंत्रियों को वेतन कटौती वापस लेने के लिए ज्ञापन दे रहे थे।

Next Story