Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rajasthan Corona Update : कोरोना के 904 नए मामले, 25 और लोगों की मौत

पिछले 24 घंटों की बात करें तो यहां रविवार को 904 नए मामले सामने आए, वहीं इस घातक संक्रमण से 25 और लोगों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी दी।

Rajasthan Corona Update : राजस्थान में कोरोना का प्रकोप थमा, संक्रमितों की संख्या में भारी गिरावट, 11 नए मामले
X

राजस्थान कोरोना वायरस

Rajasthan Corona : राजस्थान में कोरोना वायरस के मामलो निरंतर गिरते जा रहे हैं। प्रदेश में इस घातक बीमारी को लेकर स्थिति में काफी सुधार है। पिछले 24 घंटों की बात करें तो यहां रविवार को 904 नए मामले सामने आए, वहीं इस घातक संक्रमण से 25 और लोगों की मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी दी।चिकित्सा विभाग की ओर से रविवार को जारी आंकड़ों के अनुसार बीते चौबीस घंटे में प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के 904 नये मामले सामने आये हैं।

नये मामलों में राजधानी जयपुर में 169, अलवर में 97, हनुमानगढ में 70, झुंझुनू में 56, सीकर में 48, जोधपुर में 47 व बीकानेर में 43 नये मामले शामिल है। विभाग के एक अधिकारी के अनुसार इस दौरान इस घातक संक्रमण से 25 और लोगों की मौत हो गई। आंकड़ों के अनुसार इस दौरान राज्य में 3854 लोग संक्रमण से ठीक हुए और अब प्रदेश में 18,575 संक्रमित उपचाराधीन हैं।

गहलोत बोले- हमारा प्रयास होना चाहिए कि भविष्य में लॉकडाउन लगाने की जरूरत नहीं पड़े

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार संवेदनशील, पारदर्शी और जवाबदेह सुशासन की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि जनता से जो भी वादे किए गए हैं, उन्हें समयबद्ध रूप से धरातल पर उतारने के लिए सरकार समर्पण भाव के साथ जुटी हुई है। गहलोत ने जोधपुर जिले में 20 विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि हमने इस वित्त वर्ष के बजट में हर क्षेत्र और हर वर्ग के विकास को ध्यान में रखकर घोषणाएं की हैं। उन्होंने 2 करोड़ 10 लाख रूपए की लागत से 5 कार्यों का लोकार्पण तथा 113 करोड़ 38 लाख रूपए की लागत से 15 कार्यों का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कें विकास की धुरी हैं, इसलिए राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि प्रदेशभर में सड़कों के विकास में किसी तरह की कमी नहीं रहे। गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार के बेहतरीन प्रबंधन से कोरोना वायरस संक्रमण में तेजी से गिरावट आई है, लेकिन संक्रमण अभी पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है और तीसरी लहर की आशंका भी बनी हुई है। हमारा प्रयास होना चाहिए कि भविष्य में लाकडाउन लगाने की जरूरत नहीं पड़े।

Next Story