Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जबलपुर : बारातियों से भरी बस पलटी, दर्जन भर से अधिक घायल

बारात से भरी एक मिनी बस अनियंत्रित होकर खेत में जाकर पलट गई। घटनास्थल से चंद कदम दूर ही एक बिना मुंडेर का कुआं था। बस थोड़ा और आगे जाती तो निश्चित ही बहुत बड़ा हादसा हो जाता। पढ़िए पूरी खबर-

horrific road accident in bhojpur clash between truck and magic 4 members of band party died bihar crime news
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

जबलपुर। दमोह जबलपुर स्टेट हाईवे पर नोहटा पुलिस थाना के गांव अभाना के समीप बारात से भरी एक मिनी बस अनियंत्रित होकर खेत में जाकर पलट गई। घटनास्थल से चंद कदम दूर ही एक बिना मुंडेर का कुआं था, जो खेत में ही बना था। बताया जा रहा है बस थोड़ा और आगे जाती तो निश्चित ही बहुत बड़ा हादसा हो जाता।

घटना रात के करीब 3:00 बजे की बताई जा रही है, जब जबलपुर से दमोह आई बारात विवाह संस्कार पूर्ण करने के बाद वापस जबलपुर जा रही थी। हादसे में बारात में शामिल करीब 1 दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए हैं। जिन्हें सूचना मिलने पर तत्काल ही एंबुलेंस एवं 108 वाहन की मदद से जिला अस्पताल लाया गया। कई लोगों की हालत गंभीर होने की वजह से उन्हें जबलपुर रेफर कर दिया गया है। वहीं इस हादसे में दूल्हा एवं दुल्हन सुरक्षित हैं, जिन्हें मामूली चोट आई है।

दरअसल, जबलपुर से गुप्ता परिवार की बरात दमोह एसपीएम नगर आई थी और शादी समारोह जब संपन्न हुआ तो रात में ही बारात वापस जबलपुर के लिए रवाना हुई। जिसके बाद नोहटा पुलिस थाना के गांव अभाना के समीप बस चालक वाहन से नियंत्रण खो बैठा और बस सड़क से उतरकर खेत में जाकर पलट गयी।

घटना की जानकारी तुरंत ही नोहटा पुलिस को मिली तो पुलिस टीम मौके पर पहुंची और मिनी बस के अंदर फंसे घायलों को रेस्क्यू करते हुए बाहर निकाला। फिर आपातकालीन वाहन 108 की मदद से घायलों को तुरंत ही जिला अस्पताल भिजवाया।

नोहटा थाना प्रभारी विकास चौहान ने बताया यह हादसा रात्रि करीब 3:00 बजे के पास घटित हुआ है, जिसमें करीब एक दर्जन लोग घायल हुए हैं। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में किया जा रहा है, लेकिन 5 लोगों की हालत गंभीर होने पर उन्हें जबलपुर रेफर किया गया।

उन्होंने बताया कि जिस स्थान पर बस खेत में जाकर पलटी वहां से चंद कदमों की दूरी पर एक बिना मुंडेर का कुआं खुदा हुआ है और बस इससे महज थोड़ी ही दूर जाकर पलटी थी। अगर बस की रफ्तार थोड़ी और तेज होती तो बस कुएं में भी जाकर गिर सकती थी, इससे बड़ा हादसा हो सकता था। लेकिन गनीमत यह रही कि बारिश की वजह से बस के पहिए गीली मिट्टी में ही फंस गए थे।

और पढ़ें
Next Story