Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आग में झुलसकर एक मासूम बच्ची की मौत, दूसरी लड़ रही जिंदगी से जंग

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले (Solan District) के गांव दासोमाजरा में अचानक लगी आग से तीन झुग्गियां जलकर राख हो गईं। आग में झुलसने से एक सात वर्षीय बच्ची की दर्दनाक मौत (Death) हो गई वहीं एक अन्य मासूम पीजीआई (PGI) में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है।

आग में झुलसकर एक मासूम बच्ची की मौत, दूसरी लड़ रही जिंदगी से जंग
X

झुग्गी में आग से जला हुआ पड़ा सामान।

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले (Solan District) के गांव दासोमाजरा में अचानक लगी आग से तीन झुग्गियां जलकर राख हो गईं। आग में झुलसने से एक सात वर्षीय बच्ची की दर्दनाक मौत (Death) हो गई वहीं एक अन्य मासूम पीजीआई (PGI) में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। आपको बता दें कि यह हादसा सोमवार दोपहर बाद करीब अढ़ाई बजे के आसपास हुआ। जब अचानक लगी आग से तीन झुग्गियां जलकर राख हो गईं। आग की लपटों में दो सगी बहनें, जिनमें एक सात वर्षीय जिंदा जल गई, जबकि एक छह माह की बच्ची गंभीर रूप से झूलस गई। उपमंडल प्रशासन की तरफ से नायब तहसीलदार ने मौके पर आकर पीडि़यों को मुआवजा राशि प्रदान की। जानकारी के मुताबिक यह दर्दनाक हादसा सोमवार दोपहर बाद हुआ।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सड़क किनारे बनी एक झुग्गी से अचानक उठी लपटों ने कुछ ही पलों में आसपास की दो और झुग्गियों को अपनी चपेट में ले लिया। इस दौरान झुग्गियों में सो रही दो मासूम बच्चियां आग की लपटों में आने से झुलस गईं। दोनों बच्चियों को सीएचसी बद्दी में उपचार के लिए ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने के चलते दोनों को पीजीआई रेफर किया गया। वहां पर एक सात वर्षीय बच्ची की मौत हो गई, जबकि दूसरी बच्ची का उपचार चल रहा है।

वहीं हादसे की सूचना मिलते ही दमकल विभाग बद्दी की टीम मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया गया और बाकी झुग्गियों को आग की चपेट में आने से बचा लिया। आगजनी की इस घटना में रूप सिंह निवासी यूपी की सात वर्षीय बेटी गौरी की झुलसने से मौत हो गई, जबकि दूसरी मासूम लक्ष्मी का पीजीआई में उपचार चल रहा है। मलपुर पंचायत के पूर्व प्रधान पोला राम चौधरी ने बताया कि दासो माजरा में मूलतः यूपी के अमरोवा जिले के तलावड़ा निवासी रूप सिंह, रामवीर व संजय ने झुग्गियां बना रखी हैं, घटना के समय तीनों काम पर गए थे।

क्या कहना है मृतक की मां का

आपको बता दें कि यह हादसा उस वक्त हुआ जब मृतक की मां अपनी 6 माह की बच्ची को झुग्गी में सुलाकर पानी भरने गईं थी। 6 माह की बच्ची के साथ उसकी बड़ी बहन गौरी भी सो रही थी। लेकिन जब तक वह पानी भर कर आई तो उसकी तीनों झुग्गियों में आग लगी हुई थी। जब बच्चियों को बाहर निकाला तो गौरी अचेत थी, जबकि लक्ष्मी अभी सांस ले रही थी। इस पर लोगों की मद्द से उसे बद्दी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पर लक्ष्मी को प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई रैफर कर दिया गया। इस हादसे में गौरी की मौत हो गई।

Next Story