Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना वायरस के चलते हिमाचल मंत्रिमंडल का विस्तार टला

लंबे अर्से से खाली चल रहे मंत्रिमंडल के पदों को भरने की कवायद पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के क्वारंटीन ने ब्रेक लगा दिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय में अगर कोविड पॉजिटिव केस न आया होता तो संभव है कि इस महीने के अंत तक प्रदेश मंत्रिमंडल में तीन से चार नए चेहरों को जगह मिल जाती।

कोरोना वायरस के चलते हिमाचल मंत्रिमंडल का विस्तार टला
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

लंबे अर्से से खाली चल रहे मंत्रिमंडल के पदों को भरने की कवायद पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के क्वारंटीन ने ब्रेक लगा दिया है। मुख्यमंत्री कार्यालय में अगर कोविड पॉजिटिव केस न आया होता तो संभव है कि इस महीने के अंत तक प्रदेश मंत्रिमंडल में तीन से चार नए चेहरों को जगह मिल जाती। इसके अलावा विधानसभा उपाध्यक्ष पद पर भी नए चेहरे की नियुक्ति होने की संभावना थी। हालांकि मुख्यमंत्री छह दिन के क्वारंटीन पर चल रहे हैं। ऐसे में मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण से लेकर 30 जुलाई को प्रस्तावित मंत्रिमंडल की बैठक भी अधर में अटक गई है।

दरअसल, कुछ समय पहले मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद संगठन ने हिमाचल से मंत्रियों के खाली पदों को भरने के लिए नामों का प्रस्ताव दिल्ली भेज दिया था। बताया जा रहा है कि नामों पर मंथन के बाद इसी महीने के आखिरी सप्ताह में शपथ ग्रहण कराए जाने के लिए तैयारियां भी शुरू हो गई थी। मंत्रिपद के दावेदारों में कुछ ने समर्थकों को इसकी जानकारी भी दे दी थी। लेकिन इसी बीच मुख्यमंत्री छह दिन के लिए क्वारंटीन हो गए हैं। सूत्रों का कहना है कि फिलहाल जो समीकरण बने हैं उनमें कांगड़ा संसदीय क्षेत्र से दो चेहरों को जगह मिलने की संभावना है, जबकि शिमला संसदीय क्षेत्र से एक को जगह मिल सकती है।

इसके अलावा हमीरपुर संसदीय क्षेत्र से एक विधायक को उपाध्यक्ष भी बनाया जा सकता है। वहीं, मंत्रिमंडल के वर्तमान स्वरूप में भी बदलाव हुआ तो हमीरपुर संसदीय क्षेत्र को एक और मंत्री मिल सकता है। फिलहाल अब मुख्यमंत्री के क्वारंटीन से बाहर आने के बाद ही इस बात से पर्दा हटेगा कि केंद्रीय नेतृत्व ने किसके नाम पर मुहर लगाई है और मुख्यमंत्री कब अपने मंत्रिमंडल को विस्तार देते हैं।


Next Story