Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारी बारिश के चलते स्लेटपोश गौशाला ध्वस्त, लाखों का नुकसान

ज्वालामुखी के साथ लगती दरंग पंचायत के गांव चिहरु के वार्ड 1 में दो दिन से लगातार हो रही भारी बारिश के चलते गत देर रात गरीब बीपीएल परिवार की स्लेटपोश गौशाला ध्वस्त हो गई है, गनीमत रही कि अंदर बंधे पशुओं को समय रहते निकाल लिया गया अन्यथा बड़ा नुक़सान हो सकता था।

भारी बारिश के चलते स्लेटपोश गौशाला ध्वस्त, लाखों का नुकसान
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

ज्वालामुखी के साथ लगती दरंग पंचायत के गांव चिहरु के वार्ड 1 में दो दिन से लगातार हो रही भारी बारिश के चलते गत देर रात गरीब बीपीएल परिवार की स्लेटपोश गौशाला ध्वस्त हो गई है, गनीमत रही कि अंदर बंधे पशुओं को समय रहते निकाल लिया गया अन्यथा बड़ा नुक़सान हो सकता था।

बीपीएल परिवार की गौशाला गिरने से पशुओं को बांधने की समस्या सामने आ गयी है और गौशाला गिरने से अंदर रखा घास व अन्य सामान भी दब गया है। पीड़ित परिवार की महिला मधुबाला पत्नी राजकुमार ने बताया कि वे बीपीएल परिवार से संबंध रखते हैं व पशुओं को बांधने के लिए घर के साथ ही एक गौशाला बनाई गई थी, लेकिन बीती रात भारी बारिश के चलते गिर गई है। उन्होंने बताया कि पशुशाला के गिरने से कुछ समय पहले ही उन्होंने पशुओं को बाहर निकाल लिया था।

मधुबाला ने बताया कि उसके पति दिहाड़ी मजदूरी का काम करते हैं लेकिन इस कोरोना काल की वजह से आजकल उन्हें दिहाड़ी वगैरह का काम भी बड़ी मुश्किल से मिल रहा है, जहां पर 2 दिन कमा लेते हैं तो वही 4 दिन खाना पड़ता है । उन्होंने बताया कि उनके तीन बच्चे हैं जो की पढ़ाई कर रहे हैं घर पर एक बूढ़ी मां है। उन्होंने बताया कि कोरोना काल ने उनके घर की स्थिति बिगाड़ दी है।

वहीं अब पशुशाला के ढह जाने से आर्थिक संकट और बढ़ गया है। महिला मधुबाला ने बताया कि गौशाला के गिरने से लगभग एक लाख का नुकसान हुआ है, और वर्तमान समय में गोवंश को बांधने के लिए उनके पास दूसरा कोई स्थान भी नहीं है। उन्होंने सरकार से गुहार लगाई है कि जल्द ही उनकी आर्थिक सहायता की जाए। वहीं दरंग पंचायत के उपप्रधान ओमप्रकाश ने बताया कि उन्होंने गौशाला का मौका देखा है व संबंधित गरीब व बीपीएल परिवार को सरकार से आर्थिक सहायता मुहैया करवाने की गुहार लगाई।

Next Story