Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पालमपुर की घुग्घर पंचायत और स्वास्थ्य विभाग ने मिलकर 47 लोगों के फ्री काेरोना टेस्ट किए

हिमाचल प्रदेश में सबसे बड़ी पंचायतों में शुमार पालमपुर की घुग्घर के पंचायत घर राम चौक के प्रांगण में शनिवार को कोरोना के टेस्ट किए गए। स्थानीय पंचायत और स्वास्थ्य विभाग के सौजन्य से लोगों के फ्री टेस्ट किए गए।

पालमपुर की घुग्घर पंचायत और स्वास्थ्य विभाग ने मिलकर 47 लोगों के फ्री काेरोना टेस्ट किए
X
फाइल फोटो

हिमाचल प्रदेश में सबसे बड़ी पंचायतों में शुमार पालमपुर की घुग्घर के पंचायत घर राम चौक के प्रांगण में शनिवार को कोरोना के टेस्ट किए गए। स्थानीय पंचायत और स्वास्थ्य विभाग के सौजन्य से लोगों के फ्री टेस्ट किए गए।इस दिन 47 लोगों ने कोविड-19 के सैंपल दिए। पंचायत प्रधान ललित शर्मा ने बताया कि वैश्विक महामारी से इलाके के दो लोग संक्रमित पाए गए थे और यहां बाहरी राज्यों से प्रवासी आ रहे थे, इसी को ध्यान में रखते हुए एहतियात के तौर पर कोरोना के टेस्ट किए गए। महामारी की जांच को लोगों ने खुद आगे आ कर कोरोना के सैंपल दिए हैं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग का कैंप के लिए धन्यवाद किया है।

दुकानदारों ने खुद सेनेटाइज कर दिया पूरा बाजार

श्री चामुंडा मंदिर के साथ सटे क्षेत्र डाढ में शनिवार सुबह व्यापार मंडल ने बाजार सेनेटाइज किया। इस दौरान लोगों को कोरोना से बचने के टिप्स भी दिए। दुकानदारों का कहना है कि कोरोना के खतरे के बीच प्रशासन, पंचायत और स्वास्थ्य विभाग की ओर से जब डाढ बाजार को सेनेटाइज करने के लिए कोई भी नहीं पहुंचा तो फिर कारोबारियों ने खुद ही बीड़ा उठाकर पूरा बाजार खुद ही सेनेटाइज कर दिया।

दुकानदारों का कहना है कि पालमपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतिम छोर पर बसी इस पंचायत की आज तक किसी ने सुध तक नहीं ली और न ही कोरोन के मुश्किल वक्त में यहां के लोगों का दुख तकलीफ समझने की कोशिश की। गौरतलब है कि गुरुवार को डाढ बाजार के व्यापारी और उसकी पत्नी के करोना पॉजिटिव आने से व्यापार मंडल ने दो दिन तक दुकानें बंद रखने का फैसला लिया गया था। अब शनिवार को सेनेटाइजेशन के बाद रविवार को दुकानें खोली जाएंगीं।

Next Story