Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

3200 करोड़ रुपए में बनकर तैयार हुई अटल टनल, टनल के पहले यात्री होंगे बुजुर्ग

अटल टनल में सबसे पहले लाहुल के बुजुर्ग सफर करेंगे। पीएम मोदी द्वारा जहां इन बुजुर्गों को निगम की बस में बैठाकर सुरंग पार करवाई जाएगी। वहीं लाहुल-स्पीति प्रशासन ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

3200 करोड़ रुपए में बनकर तैयार हुई अटल टनल, टनल के पहले यात्री होंगे बुजुर्ग
X
अटल टनल रोहतांग

अटल टनल में सबसे पहले लाहुल के बुजुर्ग सफर करेंगे। पीएम मोदी द्वारा जहां इन बुजुर्गों को निगम की बस में बैठाकर सुरंग पार करवाई जाएगी। वहीं लाहुल-स्पीति प्रशासन ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। अटल टनल के जब बीआरओ ने दोनों छोर मिलाने में कामयाबी हासिल की थी, तो उस समय भी लाहुल के कुछ बुजुर्गों को सबसे पहले टनल से गुजारा गया था। ऐसे में यह परंपरा कायम रखते हुए अटल टनल के उद्घाटन पर एचआरटीसी की बस से लाहुल के बुजुर्ग व्यक्तियों को टनल से गुजारा जाएगा। इस बात का खुलास लाहुल-स्पीति के विधायक एवं मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने किया है।

मंत्री मार्कंडेय ने कहा कि प्रधानमंत्री तीन अक्तूबर को अटल टनल का उद्घाटन करने के लिए लाहुल पहुंच रहे हैं। इस दौरान जहां प्रधानमंत्री अटल टनल देश को समर्पित करेंगे, वहीं एचआरटीसी की बस को भी हरी झंडी दिखा लाहुल से मनाली की तरफ रवाना करेंगे। खास बात यह रहेगी कि उद्घाटन के बाद जो एचआरटीसी की बस में सवार होंगे, वे सभी लाहुल के बुजुर्ग होंगे, जो लंबे समय से अटल टनल बनने का इंतजार कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पीएम के दौरे को लेकर लाहुल-स्पीति भाजपा ने भी अपनी तरफ से तैयारियां शुरू कर दी हैं।

ऐसे में दस हजार फीट की ऊंचाई पर बनाई गई नौ किलोमीटर लंबी अटल टनल जहां बनकर तैयार हो चुकी है, वहीं मंत्री डा. रामलाल मार्कंडेय ने इस बात का खुलासा किया है कि टनल से गुजरने वाली निगम की पहली बस में लाहुल के बुजुर्ग पहले यात्रियों की सूची में शामिल होंगे। करीब 3200 करोड़ रुपए से तैयार की गई अटल टनल में आधुनिक टेक्नोलॉजी से पूरी तरह लैस है, वहीं टनल के भीतर ऐसे उपकरण लगाए गए हैं, जिनके माध्यम से यात्री हमेशा विश्व के संपर्क में बने रहेंगे। यह देश की पहली दो मंजिला ट्रैफिक टनल है, जिससे बीआरओ ने करीब दस वर्ष की कड़ी मेहनत कर तैयार किया है।

सिस्सू हेलिपैड तैयार, तीन को टनल से होकर पहुंच सकते हैं प्रधानमंत्री

बीआरओ ने जहां टनल बनाकर तैयार कर दी है, वहीं अब उद्घाटन का इंतजार किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि पीएम मोदी अटल टनल से होकर लाहुल पहुंच सकते हैं। हलांकि सिस्सू हेलिपैड को भी पूरी तरह तैयार किया गया है। ऐसे में सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने जहां मनाली व लाहुल में डेरा डाल रखा है, वहीं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम भी किए गए हैं। अटल टनल में लगाए गए उपकरणों की इन दिनों बीआरओ टेस्टिंग कर रहा है। बहरहाल तीन अक्तूबर को देश को समर्पित की जाने वाली अटल टनल के पहले यात्रियों में लाहुल के बुजुर्गों को शामिल किए जाने से जहां जनजातीय जिला के लोग खासे खुश हैं, वहीं सरकार व प्रशासन की इस पहल का भी लोग स्वागत कर रहे हैं।

Next Story