Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Pong Dam: पौंग के किनारे सारस सरीन परिंदे ने किया प्रजनन, बढ़ाया कुनबा

हिमाचल के रामसर वेटलैंड पौंग बांध में सारस सरीन परिंदे के परिवार का कुनबा बढ़ा है। इस परिंदे की प्रजाति का एक जोड़ा यहां रह रहा था, मादा परिंदे ने दो अंडे दिए थे, जिसमें से एक बच्चे ने जन्म लिया है।

Pong Dam: पौंग के किनारे सारस सरीन परिंदे ने किया प्रजनन, बढ़ाया कुनबा
X

पौंग डेम के किनारे उड़ते पक्षी।

हिमाचल के रामसर वेटलैंड पौंग बांध में सारस सरीन परिंदे के परिवार का कुनबा बढ़ा है। इस परिंदे की प्रजाति का एक जोड़ा यहां रह रहा था, मादा परिंदे ने दो अंडे दिए थे, जिसमें से एक बच्चे ने जन्म लिया है। इसके साथ इस प्रजाति के परिंदों की संख्या अब तीन हो गई है। यह पहला परिंदा नहीं है, जिसके परिवार का कुनबा बढ़ा है। अंडे से निकला बच्चा नर है या मादा यह साफ नहीं हो पाया है। इस संबंध में वाइल्ड लाइफ के विशेषज्ञ को भी इस बच्चे के बड़े होने का इंतजार है, क्योंकि बच्चे के बड़े होने के बाद ही यह तस्वीर साफ हो पाएगी कि यह बच्चा नर है या मादा।

अभी तक वाइल्ड लाइफ के विशेषज्ञों के मुताबिक यह जोड़ा यहां पिछले काफी समय से रह रहा और कुछ समय पहले ही इस जोड़े ने दो अंडे दिए थे, जिसमें से अब एक बच्चा निकला है। इसके बाद इस प्रजाति के परिंदे के परिवार का कुनबा भी बढ़ा है। वाइल्ड लाइफ के विशेषज्ञों के मुताबिक पौंग बांध के तहत आते रैंसर टापू में रह रहे राष्ट्रीय पक्षी मोर के परिवार का ही कुनबा बढ़ा था।

लेकिन अब उपरोक्त परिंदे के परिवार का कुनबा बढ़ने के बाद विशेषज्ञ भी अन्य प्रजातियाें के परिंदों के भी आंकड़े जुटाने में जुट गए हैं, ताकि यह साफ हो सके कि कौन-कौन से परिंदों की प्रजातियां यहां रहना पसंद करती हैं। सर्दियों के मौसम में बांध में हजारों की संख्या में विदेशी परिंदे पहुंचते हैं, जिनमें से कई प्रजातियाें के परिंदों को यहां की आबोहवा पसंद आ जाती है, जिसके बाद वह सालभर यही पहनना पसंद करते हैं।

वाइल्ड लाइफ विंग के डीएफओ हमीरपुर राहुल रोहाने के मुताबिक सारस सरीन प्रजाति के परिंदों का एक जोड़ा यहां रह रहा था, जिसमें से मादा परिंदे ने दो अंडे दिए हैं, जिसमें से एक अंडे से एक बच्चा निकला है। अब यह बच्चा नर है या मादा, इसकी पहचान के लिए इस बच्चे के बड़े होने का इंतजार किया जा रहा है।

Next Story