Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

Himachal Pradesh: भारी बारिश के बीच कुल्लू में बादल फटने से तबाही, कई लोग लापता- दर्जनों टूरिस्ट कैंप...

स्थानीय पुलिस ने कहा है कि कुल्लू में आज बादल फटने के कारण मणिकर्ण घाटी में बाढ़ आ गई है। हालात काबू से बाहर हैं। प्रशासन के द्वारा लोगों को निकालर सुरक्षित स्थानों पर लेकर जाया जा रहा है।

Himachal Pradesh: भारी बारिश के बीच कुल्लू में बादल फटने से तबाही, कई लोग लापता- दर्जनों टूरिस्ट कैंप...
X

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के अलग-अलग हिस्सों में मंगलवार से लगातार हो रही बारिश के बीच कुल्लू (Kullu) में बादल फटने (Cloudburst) से तबाही मच गई है। भारी बारिश (Heavy Rains) के कारण कई स्थानों पर पानी भर गया है। जबकि कई गांव बाढ़ का पानी घुसने से घर तबाह हो गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, मणिकर्ण (Manikarn) में भी टूरिस्ट कैंप डैमेज हो गए हैं।

स्थानीय पुलिस ने कहा है कि कुल्लू में आज बादल फटने के कारण मणिकर्ण घाटी में बाढ़ आ गई है। हालात काबू से बाहर हैं। प्रशासन के द्वारा लोगों को निकालर सुरक्षित स्थानों पर लेकर जाया जा रहा है। कुल्लू के एसपी गुरदेव शर्मा ने कहा कि कई टीमें बचाव कार्य में लगी हैं। अभी तक सामने आई रिपोर्ट के अनुसार, छह लोग लापता बताए जा रहे हैं, उनकी तलाश जारी है। यहां पर सात घरों और तीन प्रोजेक्ट्स को भारी नुकासन हुआ है। बाढ़ के चलते डैम के पानी को नहीं छोड़ा जा रहा। एसपी ने बताया कि लोगों से नदियों के किनारे पर नहीं जाने का अनुरोध किया गया है।

दर्जनों टूरिस्ट कैंप और घर डैमेज

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एसपी गुरदेव शर्मा ने आगे कहा, बादल फटने से मणिकर्ण में भी तबाही मच गई है। कई दर्जन टूरिस्ट कैंप और कई घरों को काफी नुकसान हुआ है। आपदा प्रबंधन के अधिकारियों के मुताबिक, बाढ़ के कारण छह लोग लापता हैं। लोगों से नदियों के किनारें पर नहीं जाने और सुरक्षित स्थानों पर रहने की की अपील की गई है। राहत और बचाव कार्य लगातार जारी है। बादल फटने के कारण कई नदियों को जल स्तर भी बढ़ गया है।

गरज के साथ बारिश की संभावना

बता दें कि हिमाचल प्रदेश में मंगलवार की शाम से लगातार बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। शिमला में भारत मौसम विज्ञान केंद्र के मंगलवार को कहा था कि बुधवार (6 जुलाई) को शिमला, सोलन, सिरमौर, बिलासपुर, हमीरपुर, मंडी और ऊना जिलों में कुछ स्थानों पर गरज के साथ भारी बारिश होने की अधिक संभावना है।

और पढ़ें
Next Story