Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बिजली स्पार्किंग से सात एकड़ गेहूं की फसल जली, किसान काे लगा सदमा

फतेहाबाद के दिगोह गांव में लगी आग पर काफी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड और ग्रामीणों ने सफलता पाई, लेकिन तब तक फसल जल चुकी थी।

बिजली स्पार्किंग से सात एकड़ गेहूं की फसल जली, किसान काे लगा सदमा
X

गेहूं की फसल में लगी आग ( फाइल फोटो)

भूना। ( फतेहाबाद)

गांव दिगोह के पास खेतों में के 33 केवी लाइन की एच पोल के पास बिजली स्पार्किंग से आग लगने से बुधवार को 7 एकड़ गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। दिगोह गांव के शमशान स्थल के पास लगी आग को काफी मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड और ग्रामीणों ने सफलता पाई, लेकिन तब तक सात एकड़ गेहूं की फसल जल चुकी थी। किसान गुरमेल सिंह मघेड़ा निवासी ने बताया कि बुधवार की शाम को उसके खेत में 33 केवी के एच पोल पर अचानक शॉर्ट सर्किट हो गया। जिससे निकली चिंगारी ने उसकी साढ़े 5 एकड़ गेहूं की फसल को राख बना दिया है।

आग की लपटें देख ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड को सूचना देने के साथ बुझाने में जुट गए, लेकिन ग्रामीण आग पर काबू नहीं पा सके, तभी सूचना पाकर मौके पर धारसूल, भूना व रतिया की फायर ब्रिगेड पहुंच गई। इसके बाद भी काफी मशक्कत के बाद आग पर कंट्रोल कर लिया गया। लेकिन जब तक आग शांत हुई तब तक 7 एकड़ से अधिक गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो चुकी थी। इस आगजनी में गुरमेल सिंह की साढ़े पांच व परगट सिंह की डेढ़ एकड़ से अधिक गेहूं की फसल जल गई है।

ठेके पर ले रखी थी जमीन

गांव मधेड़ा निवासी गुरमेल सिंह ने दिगोह के किसान तेजासिंह से 28 एकड़ जमीन 71 हजार पर प्रति एकड़ के हिसाब से ठेके पर ली हुई थी। पक कर तैयार हो चुकी साढ़े 5 एकड़ गेहूं की फसल अचानक आग की भेंट चढ़ गई है। जिससे किसान को गहरा सदमा पहुंचा है। लेकिन गांव दिगोह व भूंदडा के लोग ट्रैक्टर पानी के टैंकर लेकर खेतों में न पहुंचते तो आगजनी से सैकड़ों एकड़ फसल तबाह हो सकती थी। परंतु ग्रामीणों ने टैक्टरों की मदद से खड़ी फसल को ही रोंदकर आग को आगे बढ़ने से रोका और काफी हद तक काबू किया।


1= खेतों में जली हुई गेहूं की फसल

Next Story