Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रेवाड़ी के विजय यादव बने त्रिपुरा के डीजीपी

गांव श्यामनगर (कोसली) के बेटे को डीपीजी की जिम्मेदारी मिलने से ग्रामीणों में खुशी का माहौल है।उनके छोटे भाई राजेन्द्र यादव ने बताया कि बचपन से ही विजय का सपना पुलिस अधिकारी बनना था तथा अपनी मेहनत व लग्न से आज वह त्रिपुरा के पुलिस महानिदेशक बने हैं

DGP
X

विजय यादव पुलिस महानिदेशक त्रिपुरा 

हरिभूमि न्यूज. कोसली

रेवाड़ी के गांव श्यामनगर (कोसली) निवासी विजय यादव को त्रिपुरा के पुलिस महानिदेशक की जिम्मेदारी मिली है। गांव के बेटे को डीपीजी की जिम्मेदारी मिलने से ग्रामीणों में खुशी का माहौल है।

विजय यादव का जन्म श्यामनगर निवासी कैप्टन श्रीचन्द्र के घर हुआ था। गांव के सरकारी स्कूल में प्राथमिक शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने आगे की पढ़ाई अपने पिता के साथ रहते हुए नसीराबाद तथा पंजाब के पठानकोट से डीएससी की परीक्षा पास की। कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय से से एमएससी गोल्ड मेडल के साथ की तथा शिक्षा पूरी करने के बाद पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास की, परंतु रैंक कम होने के कारण पुलिस सेवा नहीं मिल पई। 1987 में दूसरे प्रयास में फिर यूपीएससी की परीक्षा पास कर गांव से आईपीएस बनने वाले पहले व्यक्ति बने।

त्रिपुरा कैडर मिलने के बाद वहां पुलिस सेवा में रहते हुए अपनी पहचान बनाई। उनके छोटे भाई राजेन्द्र यादव ने बताया कि बचपन से ही विजय का सपना पुलिस अधिकारी बनना था तथा अपनी मेहनत व लग्न से आज वह त्रिपुरा के पुलिस महानिदेशक बने हैं। चार भाई-बहनों में दो बहने हैं तथा मां सरबती देवी का निधन हो चुका है। घुसेड़ा निवासी विजय की पत्नी मुन्नी देवी स्नातक हैं तथा बेटा दीपक वे बेटी ज्योति एमबीए के बाद अपना बिजनेस कर रहे हैं।

Next Story