Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

तालाबों का होगा जीर्णोद्धार, Pond Authority की वेबसाइट पर 574 तालाबों का डाटा फीड

रोहतक के उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि ऐसे 82 तालाबों का एस्टीमेट तैयार करके स्वीकृति के लिए सरकार को भेजा गया है।

तालाबों का होगा जीर्णोद्धार, Pond Authority की वेबसाइट पर 574 तालाबों का डाटा फीड
X

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार

हरिभूमि न्यूज: रोहतक

ग्रे वाटर मैनेजमेंट स्कीम के तहत दूसरे चरण में जिला के 82 तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। प्राथमिकता के आधार पर उन तालाबों पर कार्य शुरु होगा जो प्रदूषित हैं और ओवरफ्लो हो चुके हैं।

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि ऐसे 82 तालाबों का एस्टीमेट तैयार करके स्वीकृति के लिए सरकार को भेजा गया है। डीसी ने बताया कि पोंड अथॉरिटी की वेबसाइट पर जिले के 574 तालाबों का डाटा फीड किया जा चुका है, इनमें से 5 मॉडल तालाबों पर कार्य चल रहा है। उन्होंने ये भी बताया कि चमारिया गांव में डांड वाले तालाब के सुधारीकरण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इसके लिए टेंडर जारी किया जा चुका है। इस तालाब पर 165.66 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। इसी प्रकार से गांव भाली आनंदपुर के गुही तालाब के सुधारीकरण पर 38.06 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। इस तालाब से पानी निकालने का कार्य पूरा हो चुका है और खुदाई का काम जारी है। गांव भाली आनंदपुर के ही बड़ा तालाब पर भी सिंचाई विभाग द्वारा पानी निकालने का कार्य चल रहा है। इस पर 98.50 लाख रुपए की अनुमानित लागत आएगी।

कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि 8.67 लाख रुपये की अनुमानित लागत से निंदाना टिगरी के सैन्सर तालाब का सुधारीकरण भी किया जा रहा है। इस तालाब का पानी निकालने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि बनियानी गांव के दूधिया वाला तालाब से भी पानी निकालने का कार्य प्रगति पर है। इस तालाब के सुधारीकरण पर 57.40 लाख रुपए के अनुमानित लागत आएगी। उपायुक्त ने कहा कि उपरोक्त 5 तालाब मॉडल तालाब के रूप में लिए गए हैं और इन पर कार्य आरंभ हो चुका है।

सुधारीकरण होगा

कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि मदीना कोरसान के जाखली तालाब के सुधारीकरण पर 160 लाख रुपये का खर्च होने का अनुमान है। इसी तरह से मोखरा खास के मांडलीवाला तालाब का सुधारीकरण किया जाना प्रस्तावित है। इस पर 9.10 लाख की अनुमानित लागत आएगी। निंदाना खास के कलसर तालाब का भी सुधारीकरण किया जाएगा, जिस पर 95 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। निंदाना खास के दादा बदला के सुधारीकरण पर 210 लाख रुपये, बहुअकबरपुर के बोरस तालाब के सुधारीकरण पर 50 लाख, खरावड़ के चमन ऋषि के नजदीक वाले तालाब के सुधारीकरण पर 50 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि उपरोक्त सभी 10 तालाबों का एस्टीमेट व ड्राइंग बनाने का कार्य प्रगति पर है। इन तालाबों का सुधारीकरण करके घरों से निकलने वाले गंदे पानी (शौचालय के अपशिष्ट जल को छोड़कर) को कंस्ट्रक्टेड वेटलैंड टेक्नोलॉजी द्वारा उपचारित करने के बाद तालाबों में डाला जाएगा ताकि पानी का उपयोग सिंचाई आदि के लिए किया जा सके।

डीसी ने बताया कि इन 5 तालाबों के अलावा 10 अन्य तालाब भी चिन्हित कर लिए गए हैं, जिन पर कार्य किया जाना है। उन्होंने बताया कि गांव बनियानी में बुढ़ा तालाब पर सुधारीकरण करने के लिए 146.80 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। इसी प्रकार टिटौली के मलसकर तालाब के सुधारीकरण पर 143.10 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। गांव बहल्बा के मलसर तालाब के सुधारीकरण पर 29.10 लाख रुपये और गांव बहराण के बनिया वाला तालाब के सुधारीकरण पर 120 लाख रुपये खर्च किए जाने का अनुमान है।

Next Story