Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सेना भर्ती के उम्मीदवारों की दुकानदार ने बना दी कोरोना की फर्जी रिपोर्ट

पुलिस ने फोटोस्टेट संचालक से एक लैपटॉप व अन्य दस्तावेज बरामद कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। इस मामले में पुलिस ने रतिया नागरिक अस्पताल के एसएमओ डॉ. नवजोत सिंह की शिकायत पर दुकान मालिक गुरसेवक निवासी पिलछियां व बिन्टू निवासी कमाना के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

सेना भर्ती के उम्मीदवारों की दुकानदार ने बना दी कोरोना की फर्जी रिपोर्ट
X

 रतिया : फोटोस्टेट की दुकान पर जांच करते हुए स्वास्थ्य विभाग व पुलिस के कर्मचारी।

हरिभूमि न्यूज : फतेहाबाद (रतिया)

हिसार में होने वाली सेना भर्ती को लेकर आवश्यक कोरोना आरटीपीसीआर टेस्ट की फर्जी नेगेटिव रिपोर्ट तैयार करके देने की सूचना के बाद रतिया पुलिस ने शहर की एक फोटोस्टेट की दुकान पर छापेमारी की। पुलिस ने फोटोस्टेट संचालक से एक लैपटॉप व अन्य दस्तावेज बरामद कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है। इस मामले में पुलिस ने रतिया नागरिक अस्पताल के एसएमओ डॉ. नवजोत सिंह की शिकायत पर दुकान मालिक गुरसेवक निवासी पिलछियां व बिन्टू निवासी कमाना के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को हिसार में सेना की भर्ती होनी है, इसके लिए सेना के नियमानुसार भर्ती में भाग लेने वाले युवाओं के पास कोरोना आरटीपीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट होना जरूरी है। इसको लेकर पिछले कुछ दिनों से नागरिक अस्पताल में काफी युवक कोरोना टेस्ट का सैंपल देने के पश्चात अग्रोहा मेडिकल कॉलेज से आने वाली रिपोर्ट प्राप्त कर उस पर नागरिक अस्पताल के एसएमओ के साइन करवा कर रिपोर्ट ले जा रहे थे। शुक्रवार दोपहर बाद नागरिक अस्पताल में एसएमओ डॉ. भरत सहारण के पास दो युवक कोरोना आरटीपीसीआर की अग्रोहा मेडिकल कॉलेज से आने वाली नेगेटिव रिपोर्ट साइन करवाने के लिए लेकर आए। डॉ. भरत को उक्त युवकों के पास मौजूद रिपोर्ट का प्रारूप देखकर उन्हें आशंका हुई कि यह रिपोर्ट नकली हो सकती है तो उन्होंने उक्त रिपोर्ट पर युवकों के कोरोना टेस्ट सैंपल देने की अंकित तिथि को जब नागरिक अस्पताल के रिकॉर्ड में जांच की तो रिकॉर्ड के अनुसार उक्त युवकों ने उक्त तिथि को नागरिक अस्पताल में कोरोना टेस्ट का सैंपल नहीं दिया था।

इस पर डॉ. सहारण ने युवकों से पूछताछ की तो युवकों ने बताया कि उन्होंने शहर के सती मंदिर के समीप एक फोटोस्टेट की दुकान से कोरोना टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट का उक्त प्रारूप प्राप्त किया है। इस पर डॉ. सहारण ने इस बारे पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने सती मंदिर के समीप उक्त फोटोस्टेट की दुकान पर छापामार कार्रवाई कर दुकान में रखे लैपटॉप व अन्य दस्तावेजों को बरामद कर पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

Next Story