Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पांच रुपये में महिलाओं व किशोरियों को सैनिटरी नैपकीन

फतेहाबाद के उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने कहा कि कोई भी महिला/किशोरी सैनिटरी नैपकीन मशीन में पांच रुपये डालकर नैपकिन प्राप्त कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि मशीन के लगने से महिलाओं /किशोरियों को महावारी के दौरान संक्रमण से बचाव मिलेगा।

पांच रुपये में महिलाओं व किशोरियों को सैनिटरी नैपकीन
X

फतेहाबाद : लघु सचिवालय में महिला एवं बाल विकास विभाग की सैनिटरी नैपकीन मशीन का उद्घाटन कर किशोरियों को सैनिटरी नैपकीन वितरित करते उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़।

हरिभूमि न्यूज : फतेहाबाद

उपायुक्त डॉ. नरहरि सिंह बांगड़ ने वीरवार को लघु सचिवालय में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सैनिटरी नैपकीन मशीन (सखी) का शुभारंभ किया। इस मौके पर उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने कहा कि कोई भी महिला/किशोरी सैनिटरी नैपकीन मशीन में पांच रुपये डालकर नैपकिन प्राप्त कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि मशीन के लगने से महिलाओं /किशोरियों को महावारी के दौरान संक्रमण से बचाव मिलेगा। महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा देने के उद्देश्य से मशीन को लघु सचिवालय में लगवाया गया है।

उपायुक्त डॉ. बांगड़ ने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए किए जा रहे कार्य की सराहना भी की। उन्होंने कहा कि मशीन के रखरखाव की जिम्मेदारी महिला एवं बाल विकास विभाग को दी गई है। इस मौके पर उपायुक्त द्वारा महिला एवं किशोरी सम्मान योजना के तहत बीपीएल परिवार की किशोरी बच्चियों को सैनिटरी नैपकीन भी वितरित किए। उन्होंने महिलाओं की सुरक्षा पर बल देते हुए बताया कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर गंभीर है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को अग्रणी क्षेत्र में लाने के लिए पूर्णरूप से प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि सभी विभागों में आंतरिक शिकायत कमेटी का गठन किया हुआ है व जिला स्तर पर महिलाओं की सुरक्षा के लिए स्थानीय शिकायत कमेटी का गठन किया गया है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी राजबाला ने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिलाओं एवं बच्चों के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलाई हुई है। उन्होंने सैनिटरी नैपकीन मशीन सखी के शुभारंभ के लिए उपायुक्त का आभार व्यक्त किया। उन्होंने बताया कि महिलाओं को महावारी के दौरान अनेक बार दिक्कत का सामना करना पड़ता था जो कि मशीन के लगने से महिलाओं को सुरक्षा प्रदान होगी। उन्होंने विभाग द्वारा चलाई जा रही महिला एवं किशोरी सम्मान योजना के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि महिला एवं किशोरी सम्मान योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों के 10 से 45 वर्ष के बीच की किशोर लड़कियों और महिलाओं को हर महीने मुफ्त में सैनिटरी नैपकीन उपलब्ध करवाया जा रहा है। इस अवसर पर सीटीएम अंकिता वर्मा, सीएमजीजीए ज्योति यादव, परियोजना अधिकारी लता रानी, सुमन, अधीक्षक परमजीत कौर, उर्मिला रानी, अजय बजाज, राकेश गोस्वामी, आशीष कुमार आदि उपस्थित रहे।

Next Story