Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

किसान आंदोलन : पक्के मकानों के निर्माण कार्य को पुलिस ने रुकवाया, किसान बोले-आप ही कर दो रहने की व्यवस्था

पुलिस व किसानों के बीच लंबी देर तक चली बातचीत के बाद आखिरकार किसानों ने पुलिस की बात मान ली और फिलहाल निर्माण कार्य रोक दिया। किसानों ने पुलिस को कहा कि वे फिलहाल निर्माण कार्य रोक रहे हैं,

किसान आंदोलन : पक्के मकानों के निर्माण कार्य को पुलिस ने रुकवाया, किसान बोले-आप ही कर दो रहने की व्यवस्था
X

पक्के निर्माण कार्य की सूचना पर पहुंचे डीएसपी व अन्य पुलिस कर्मचारी।

हरिभूमि न्यूज. सोनीपत

तीन कृषि कानूनों के विरोध में कुंडली बॉर्डर पर साढ़े तीन महीने से आंदोलनरत किसानों द्वारा कुंडली बॉर्डर पर शुरू किए गए पक्के मकानों के निर्माण कार्य की सूचना पर शुक्रवार को डीएसपी व कुंडली थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और निर्माण कार्य को रुकवाया। पुलिस अधिकारियों ने किसानों को कानून व्यवस्था का हवाला दिया तो किसान नेता बोले-फिर आप ही कर दो रहने की व्यवस्था। पुलिस व किसानों के बीच लंबी देर तक चली बातचीत के बाद आखिरकार किसानों ने पुलिस की बात मान ली और फिलहाल निर्माण कार्य रोक दिया। किसानों ने पुलिस को कहा कि वे फिलहाल निर्माण कार्य रोक रहे हैं, लेकिन शनिवार को संयुक्त किसान मोर्चा के नेता यहां पहुंचेंगे और बैठक करेंगे। बैठक के बाद ही निर्माण कार्य को लेकर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

बता दें कि केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में किसान कुंडली बॉर्डर पर आंदोलनरत हैं। किसानों ने आंदोलन को लंबा खिंचते देख कुंडली बॉर्डर पर सड़क किनारे पक्के निर्माण कार्य करने शुरू कर दिए। अब तक किसान चार मकानों की दीवारें खड़ी कर चुके हैं। पुलिस का कहना है कि जीटी रोड पर पक्का निर्माण किया जाना सही नहीं है। इसलिए मौके पर पहुंचकर किसानों को कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए निर्माण कार्य रुकवाया है। शनिवार को भी पुलिस धरनास्थल पर पहुंचेगी और इस संबंध में किसान नेताओं से बातचीत करेगी।

लगातार पहुंच रही है निर्माण सामग्री

किसानों द्वारा कुंंडली बॉर्डर पर शुरू किए गए निर्माण कार्य के चलते यहां लगातार निर्माण सामग्री पहुंचाई जा रही है। जिससे कुंडली धरने के मुख्य मंच से करीब आधा किलोमीटर पहले पानीपत से दिल्ली जाने वाली लेन पर कई मकानों का निर्माण एक साथ शुरू करवाया गया है, तो वहीं किसान मोर्चा कार्यालय के पास भी एक साथ 4 कमरों का निर्माण शुरू किया गया है। यहां कई मकानों की नींव तैयार हो चुकी है जबकि निर्माण के लिए इससे पहले ट्यूबवैल भी लगवाए जा चुके हैं। किसानों का तर्क है कि सरकार के हठ के कारण उन्हें यहीं बैठना पड़ रहा है। किसानों ने एक दिन पहले ही एलान किया था कि वे यहां पर प्लाट काटेंगे और मोहल्ले बसाएंगे। पुलिस के पहुंचने के बाद फिलहाल निर्माण कार्य रोक दिया गया है। शनिवार को बैठक में इस पर निर्णय लिया जाएगा।

पुलिस बोली-पक्के निर्माण ना करें, फैलेगी अव्यवस्था

किसानों द्वारा जीटी रोड किनारे पक्के निर्माण किए जाने की सूचना पर पहुंचे डीएसपी राई वीरेंद्र सिंह व कुंडली थाना के एसएचओ रवि कुमार किसानों के बीच पहुंचे और निर्माण कार्य रोकने को कहा। पुलिस ने कहा कि यहां पर वे पक्के निर्माण न करें, क्योंकि यह जीटी रोड है और इससे अव्यवस्था फैलेगी। पुलिस ने यह भी कि किसान कानून के दायरे में रहकर गतिविधियां चलाएं, पुलिस के लिए परेशानी पैदा न करें। इस पर किसानों ने तर्क दिया कि वे यहां एक दिन के लिए निर्माण रोकने को तैयार हैं, लेकिन अंतिम निर्णय मोर्चा के नेता मनजीत राय के शनिवार को धरने पर पहुंचने के बाद लिया जाएगा। पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को दोबारा से यहां आने की बात कही है।

स्थिति का जायजा लिया : जीटी रोड किनारे आंदोलनरत किसानों द्वारा पक्के निर्माण कार्य करने की सूचना मिली थी। जिसके बाद डीएसपी साहब के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। यहां पक्के निर्माण कर रहे किसानों को निर्माण कार्य रोकने के लिए कहा है। फिलहाल किसानों ने निर्माण कार्य रोक दिया है, लेकिन इस पर शनिवार को संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में आगामी निर्णय लेने की बात कही है। शनिवार को दोबारा धरनास्थल पर जाएंगे और किसानों से व्यवस्था बनाए रखने की बात कहेंगे। - रवि कुमार, प्रभारी, कुंडली थाना


Next Story