Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुलिस ने फिर से थमा दिए वन विभाग को नोटिस, पूछा कैसे हुई पेड़ों की कटाई

एसीपी बडखल के आदेशों (Orders) पर फिर से मामले की जांच का काम शुरू किया गया है तथा आरोपियों के खिलाफ फ्रॉड की धाराओं के तहत भी जांच की जा रही है।

पुलिस ने फिर से थमा दिए वन विभाग को नोटिस, पूछा कैसे हुई पेड़ों की कटाई
X

फरीदाबाद। प्रतिबंधित वन क्षेत्र की जमीन को कृ षि भूमि दर्शा कर फ्रॉड रजिस्टरी कराने के मामले में दयाल बाग चौकी पुलिस ने वन विभाग को नोटिस (Notice) जारी किया है। इस संदर्भ में दयाल बाग चौकी पुलिस ने वन विभाग की शिकायत पर पहले अनंगपुर निवासी तिलक भडाना व सतेन्द्र भडाना सहित कुल पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था तथा बाद में मामले को रद्द कर दिया।

एसीपी बडखल के आदेशों (Orders) पर फिर से मामले की जांच का काम शुरू किया गया है तथा आरोपियों के खिलाफ फ्रॉड की धाराओं के तहत भी जांच की जा रही है। गौरतलब है कि गांव अनंगपुर निवासी तिलक, सतेन्द्र, वन्दिर, ओ.पी.शर्मा व सरताज अहमद ने गांव अनंगपुर के कृषि भूमि के खसरा नम्बर 1404 व 1408 के रकबे को दर्शा कर न सर्फि गैर मुमकिन पहाड वन क्षेत्र के रकबा नम्बर 1405 की रजिस्टरी ही करा ली बल्कि प्लाटिंग कर अवैध रूप से नवनर्मिाण कार्य भी करा दिए।

इस संदर्भ में वर्ष 2019 में वन विभाग के अधिकारी रमेश सैनी की शिकायत पर दयाल बाग चौकी पुलिस ने तिलक भडाना सहित पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था तथा बाद में मामले को रद्द भी कर दिया।

एसीपी बडखल ने उक्त मामले की फिर से जांच कराने के संदर्भ में आदेश जारी किए थे। दयाल बाग चौकी पुलिस वैसे तो एसीपी के आदेशों के बाद भी जांच के काम मेंं सुस्त रवैया अपनाए हुए है तथा हाल ही वन विभाग को पेडों की अवैध रूप से की गई कटाई के संदर्भ में जानकारी उपलब्ध कराने के लिए नोटिस जारी किया है।

यह कहते है चौकी इंचार्ज

दयाल बाग चौकी इंचार्ज राजेश शर्मा का कहना है कि कोरोना काल के बाद उक्त केस के जांच के काम में तेजी लाई गई है तथा पेडों की कटाई के संदर्भ में जानकारी लेने के लिए वन विभाग को नोटिस जारी किए गए है।

Next Story