Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मास्टर प्लान तैयार, मकान का नक्शा पास करवाने के लिए बरसाती पानी संरक्षित करना होगा

गिरते हुए भू जल स्तर को उपर उठाने के लिए भी विधायक घनश्याम दास सर्राफ तथा नगर परिषद ने एक मास्टर प्लान तैयार किया है जिसके तहत आगे से जो भी 200 गज मकान का नक्शा पास करवाया जाएगा वो तभी पास होगा जब उसमें बरसाती पानी को संरक्षित करने का कदम उठाया गया होगा।

मास्टर प्लान तैयार, मकान का नक्शा पास करवाने के लिए बरसाती पानी संरक्षित करना होगा
X

 पौधा रोपण करते हुए विधायक घनश्याम दास सर्राफ। (फाइल फोटो)

हरिभूमि न्यूज : भिवानी

अगर सब कुछ ठीक रहा तो जुलाई माह तक जिले का आक्सीजन लेवल बढ़कर उस स्तर तक पहुंच जाएगा जहां लोगों को तथा बेजुबान पक्षियों को आक्सीजन की कमी के चलते परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी। इसके साथ साथ गिरते हुए भू जल स्तर को उपर उठाने के लिए भी विधायक घनश्याम दास सर्राफ तथा नगर परिषद ने एक मास्टर प्लान तैयार किया है जिसके तहत आगे से जो भी 200 गज मकान का नक्शा पास करवाया जाएगा वो तभी पास होगा जब उसमें बरसाती पानी को संरक्षित करने का कदम उठाया गया होगा। यह बात विधायक घनश्याम दास सर्राफ ने कही।

उन्होंने कहा कि कोरोना समय में देखने में आया था कि जिले में आक्सीजन का स्तर काफी नीचे था जिससे कोरोना से संक्रमित हुए लोगों को आक्सीजन सिलेंडर का सहारा लेना पड़ा था। इसका मुख्य कारण यह था कि जिले में पेड़ पौधों की कमी काफी है तथा इस कमी को पूरा करने तथा बरसाती पानी को संरक्षित करने के लिए अब मास्टर प्लान तैयार किया गया है। इसके तहत सबसे पहले शहर में आक्सीजन लेवल को सुधारने के लिए महा अभियान के तहत पौधा रोपण अभियान शुरू किया गया है तथा इसके तहत मंगलवार को महाराजा नीमपाल सिंह कॉलेज में 1100 पौधे रोपित किए गए हैं। इतना ही नहीं गांवों में पौधा रोपण करने के लिए सामाजिक संस्थाओं का सहारा लिया जाएगा ताकि अभियान तेजी पकड़ सके।

बरसाती पानी संरक्षित होगा तो बढ़ेगा भू-जल स्तर

अभी गर्मी का मौसम ही शुरू हुआ है कि शहर में अनेक कॉलोनियों में पानी की किल्लत होनी शुरू हो गई है। आए दिन किसी न किसी कॉलोनी के लोग पेयजल समस्या के चलते विभाग के प्रति नारेबाजी कर अपना रोष जाहिर कर रहे हैं। नहरी पानी कम मिलने के साथ साथ भू-जल स्तर का कम होने के चलते हालात अधिक बिगड़ सकते हैं। आगे बारिश का मौसम आ रहा है तथा उस दौरान अगर बरसाती पानी का सरंक्षण अच्छी प्रकार किया गया तो काफी हद तक समस्या पर निजात मिल पाएगी। इसी बात को ध्यान में रखते हुए विधायक घनश्याम दास सर्राफ तथा नगर परिषद ने मिलकर मास्टर प्लान तैयार किया है। इसके तहत अभी तक जो नक्शे पास हो चुके हैं उन्हें छोड़कर आगे नगर परिषद कार्यालय में जो भी 200 गज या इससे अधिक के नक्शे पास होने के लिए आएंगे उन्हें यह दर्शना होगा कि उन्होंने बरसाती पानी संरक्षित करने के लिए बेहतर कदम उठाया है तभी नक्शा पास हो पाएगा। इसके लिए अधिकारियों द्वारा फाइल भी उच्च अधिकारियों के पास भेज दी गई है तथा इस पर मोहर लगते ही नियम शुरू हो जाएगा।

प्रपोजल भेज दिया गया है जल्द मिलेगी अनुमति

इस बारे में विधायक घनश्याम दास सर्राफ ने कहा कि आक्सीजन लेवन को बढ़ाने के लिए युद्ध स्तर पर पौधा रोपण अभियान चलाया गया है तथा भू-जल स्तर को बढ़ाने के लिए उच्च अधिकारियों के पास प्रपोजल भेजा जा चुका है जिसकी जल्द ही अनुमति मिल जाएगी तथा नियम को लागू कर दिया जाएगा।

Next Story