Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

टिकरी बॉर्डर खुलवाने के लिए सीएम से मिले बहादुरगढ़ के उद्योगपति

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बीसीसीआई के प्रतिनिधिमंडल को दिल्ली पुलिस से बातचीत कर शीघ्र हल निकालने का आश्वासन दिया है।

टिकरी बॉर्डर खुलवाने के लिए सीएम से मिले बहादुरगढ़ के उद्योगपति
X

 सीएम मनोहर लाल से बॉर्डर खुलवाने पर चर्चा करते उद्यमी।

हरिभूमि न्यूज. बहादुरगढ़

किसान आंदोलन के कारण करीब 8 महीने से बंद रास्तों को खुलवाने की मांग लेकर बहादुरगढ़ चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के पदाधिकारी बुधवार को चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिले। बीसीसीआई के इस प्रतिनिधिमंडल में वरिष्ठ उपप्रधान नरेंद्र छिकारा व विकास आनंद सोनी के अलावा महासचिव सुभाष जग्गा और पन्ना लाल वैद्य शामिल थे। सीएम ने इस मामले में दिल्ली पुलिस से बातचीत कर शीघ्र हल निकालने का आश्वासन दिया है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा बुधवार को चंडीगढ़ में लगाए गए जनता दरबार में बहादुरगढ़ के उद्योगपति भी फरीयाद लेकर पहुंचे। उन्होंने किसान आंदोलन के चलते बीते 8 महीने से टिकरी बार्डर पर बंद रास्ते को खुलवाने की गुहार लगाई। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस विषय पर दिल्ली पुलिस से बात कर समाधान निकालने का आश्वासन दिया है। बीसीसीआई पदाधिकारियों के अनुसार रास्ते बंद होने के कारण हजारों लोगों के रोजगार पर बड़ा संकट खड़ा हो गया है। उनका कहना है कि इसके कारण बहादुरगढ़ की इंडस्ट्री बंद होने की कगार पर पहुंच गई है। उद्योगजगत को अब तक 20 हजार करोड़ का नुकसान हो चुका है।

ट्रांसपोर्ट का खर्च कई गुणा बढ़ गया है। दिक्कतें बढ़ने के कारण उद्यमी-श्रमिक सब परेशान हैं। बीसीसीआई के वरिष्ठ उपप्रधान नरेंद्र छिकारा इस सिलसिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी पत्र लिख चुके हैं। किसान आंदोलन के चलते 26 जनवरी के बाद दिल्ली पुलिस ने बहादुरगढ़-दिल्ली सीमा पर सीमेंट की दीवार के साथ बेरिकेडिंग की हुई है। किसानों ने केवल एक तरफ मंच लगा रखा है। लेकिन दिल्ली पुलिस ने पक्की दीवार और कंटीले तार जमीन में गाड़ कर रास्ता स्थाई तौर पर बंद कर रखा है। उद्यमियों को उम्मीद है कि सरकार के दखल के बाद जल्द रास्ते खुलेंगे और हालात सामान्य होंगे।



Next Story