Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पढ़ने की उम्र नहीं होती : हरियाणा के सीएम मनोहर लाल सीखेंगे जापानी भाषा, Kurukshetra University में लिया दाखिला

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय द्वारा शुरू किए गए जापानी संस्कृति एवं भाषा के बेसिक सर्टिफिकेट कोर्स (सत्र 2021-22) में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल इस कोर्स (3 महीने का कोर्स) में दाखिला लेने वाले प्रथम विद्यार्थी बन गए हैं।

पढ़ने की उम्र नहीं होती : हरियाणा के सीएम मनोहर लाल सीखेंगे जापानी भाषा, Kurukshetra University में लिया दाखिला
X

सीएम मनोहर लाल

हरिभूमि न्यूज. कुरुक्षेत्र

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ( Kurukshetra University ) द्वारा शुरू किए गए जापानी संस्कृति एवं भाषा के बेसिक सर्टिफिकेट कोर्स (सत्र 2021-22) में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ( Cm Manohar lal ) इस कोर्स (3 महीने का कोर्स) में दाखिला लेने वाले प्रथम विद्यार्थी बन गए हैं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि शिक्षा कोई भी व्यक्ति किसी भी उम्र में ग्रहण कर सकता है, सीखने की कोई उम्र नहीं होती। उनका शुरू से ही विदेशी भाषा सीखने के प्रति लगाव रहा है इसलिए ही उन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय द्वारा शुरू किए जापानी भाषा के कोर्स में दाखिला लिया है।

कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सोमनाथ सचदेवा ने जापानी भाषा कोर्स के प्रथम विद्यार्थी बनने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के लिए गर्व की बात है। मुख्यमंत्री के इस कोर्स में दाखिला लेने से विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों में उत्साह व जोश का संचार होगा। मुख्यमंत्री के साथ हरियाणा सरकार व स्वायत्त संस्थान के उच्च अधिकारियों ने भी इस कोर्स में दाखिला लिया है। कला एवं भाषा संकाय के अधिष्ठाता एवं विदेशी भाषा विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. ब्रजेश साहनी ने बताया कि इस सर्टिफिकेट कोर्स में जापानी इतिहास, जापानी जीवन मूल्य, जापानी के लेखन और उच्चारण की मूल बातें, बॉडी लैंग्वेज, जापानी शब्दावली, दैनिक जीवन में उपयोग किए जाने वाले बुनियादी अभिवादन व बिजनेस मीटिंग को समझने के साथ-साथ सामान्य वाक्यांश और वाक्यों को पढ़ने में सक्षम होना सिखाया जाएगा।

इस कोर्स से भारत एवं जापान के बीच शिक्षा, शोध, व्यापार, रोजगार एवं संस्कृति के आदान-प्रदान के क्षेत्र में नई संभावनाएं पैदा होंगी। उन्होंने बताया कि जापानी भाषा का यह कोर्स नई शिक्षा नीति के अनुसार डिजाइन किया गया पाठ्यक्रम है। यह ऑनलाइन कार्यक्रम शिक्षार्थियों के अनुसार ही बनाया गया जो उन्हें जापानी भाषा आसानी से सीखने में मदद करेगा। इस कोर्स की आॅनलाईन कक्षाएं जल्दी ही शुरू की जाएंगी। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा जापानी भाषा में एक वर्षीय कोर्स भी चलाया जा रहा है जिसमें 20 छात्रों ने दाखिला लिया है और जिसकी आॅनलाईन कक्षाएं भी शुरू हो चुकी है। यह कोर्स विद्यार्थियों में कौशल विकास करने के साथ-साथ उनके लिए रोजगारोन्मुखी अवसर भी प्रदान करेगा।

Next Story